12वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची (12th ke bad computer course Suchi)

12 वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची (12th ke bad computer course Suchi) यह ब्लॉग आपके लिए बहुत उपयोगी होगा यदि आप कंप्यूटर की दुनिया में आगे बढ़ना चाहते हैं, तो आइए देखते हैं  कि कौन-कौन से 12वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची (12th ke bad computer course Suchi)  है।

आज का समय कम्प्यूटर का समय है और हम  यह भी कह सकते हैं कि कम्प्यूटर के बिना हमारी जिंदगी अधूरी है तो कहीं ना कहीं यह सही ही होगा। आज अधिकतर काम कंप्यूटर या टेक्नोलॉजी के जरिए ही किया जाता  है। 

डिजिटल भारत का दौर होने से कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी की जरूरत दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। हम अपने चारों ओर देखें तो कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी इन दो चीजों का बहुत अधिक महत्व है। चाहे फिर कॉलेज हो या स्कूल में एडमिशन लेना हो, किसी job के लिए फॉर्म हो य एडमिशन का फॉर्म भरना, सभी में कंप्यूटर की आवश्यकता पड़ती है। 

आज कल के बीमारियों के वजह से और भी बहुत सारे कमो में कंप्यूटर का उपयोग बढ़ता जा रहा है और कंप्यूटर से संबंधित नोकरी निकलती जा रही है। इन्हीं सब को देखते हुए आज यह अती महत्वपूर्ण ब्लॉग बनाया गया है, जिसमें हम बताने वाले हैं कि “12वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची (12th ke bad computer course Suchi)” कौन-कौन से हैं।

12 वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची (12th ke bad computer course Suchi)
12 वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची (12th ke bad computer course Suchi)

12वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची (12th ke bad computer course Suchi)

चलिए दोस्तों हम देखेंगे कि 12th के बाद कौन कौन सी कोर्स कर सकते और कोनसा कोर्स आपके लिए फायदेमंद रहेगा जो कि निम्नलिखित है।

  • वेब डिजाइनिंग 
  • VFX एंड एनीमेशन 
  • टैली (Tally)
  • माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस एंड टाइपिंग कोर्स
  • साइबर सिक्योरिटी कोर्स
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन आईटी एंड कंप्यूटर साइंस
  • हार्डवेयर मेंटेनेंस
  • डिजिटल मार्केटिंग कोर्स
  • कंप्यूटर नेटवर्किंग
  • फोटोशॉप
  • बीटेक (B.tech)
  • बीसीए (BCA)
  • ग्राफिक डिजाइनिंग
  • एंड्रॉयड एप डेवलपमेंट

वेब डिजाइनिंग 

website web designing course में आपको website बनाना, website को manage करना website के लिए database बनाना आदि सिखाया जाता है। Web designing का course करने के बाद आप अच्छी job पा सकते हैं, लेकिन उसके लिए आपको अच्छी practise की जरूरत होगी। 

Web design के दो parts होते हैं एक front web designing दूसरा backend web designing। यह कोर्स computer science में डिप्लोमा करके, BCA कोर्स करके  या B.tech करके भी कर सकते हैं। इस course में आप अपनी skills को जितना बढ़ाएंगे उतना ही अत्यधिक salary वाली job मिल पाएगी। Web development का course करने के लिए  HTML, Javascript और CSS की नॉलेज होना जरूरी है। यह कोर्स online भी किया जाता है।

VFX and ANIMATION

आजकल cartoons, video games, 3D movies आदि का प्रचलन बहुत अधिक होता जा रहा है। VFX और Animation का प्रयोग आजकल movies तथा videos में भी किया जाता है। इनके द्वारा चित्रों को और भी भव्य रुप से दिखाया जाता है। कई T.V Show में stage performance के वक्त भी animation का use किया जाता है इसके द्वारा performance, फिल्म, गानो, कार्टूंस और भी कई चीजों में चार चांद लग जाते हैं। कई movies में इमारतों और लोगों की जगह animation का ही प्रयोग होता है और हमें लगता है कि वह सब real है। 

इस course को करने के लिए 10th और 12th में 50% से अधिक नंबर से pass होना आवश्यक है तथा इसके लिए entrance exam तथा interview भी लिया जाता है। इस course को करने के बाद animator,art director, film और video editor तथा 3D animator की job कर सकते हैं। यह जॉब आपकी practice और आपकी skill पर depend होती है। यह कोर्स online भी सीखा जा सकता है।

टैली (Tally)

Tally का आविष्कार Tally Solutions Pvt. Ltd.  द्वारा हुआ था। कई जगहों में tally का course अनिवार्य होता है। Tally course accounting से संबंधित होता है। आजकल कई mall,showroom तथा hotel में bill दिया जाता है। यह bill tally के software  द्वारा बनाया जाता है तथा जिन्होंने tally का course किया होता है, वो इस job को कर सकता है। 

Tally का course 12 तथा graduation के बाद भी किया जाता है। Tally का कोर्स computer science  में diploma या डिग्री करके भी किया जाता  है। इसे सीखने में  अधिक समय की आवश्यकता नहीं होती कुछ weeks मे ही हम इसे सीख सकते हैं ‍और जो लोग अधिक फीस नहीं दे सकते या उन्हें job करनी होती है वह इस course को कर सकते है क्योंकि इसकी फीस अधिक नहीं होती है। Tally सीखने के कई videos online भी उपलब्ध है। तथा online भी इस course को सीख सकते हैं । 

माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस एंड टाइपिंग कोर्स

माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस एंड टाइपिंग कोर्स के अन्तर्गत ये सब कोर्स आती है :-

  • माइक्रोसॉफ्ट वर्ड (Microsoft Word)
  • माइक्रोसॉफ्ट ऍक्सेल (Microsoft Excel)
  • माइक्रोसॉफ्ट पावरप्वाइण्ट (Microsoft PowerPoint)
  • माइक्रोसॉफ्ट एक्सेस (Microsoft Access)
  • माइक्रोसॉफ्ट आउटलुक (Microsoft Outlook) 

इसमें document को आसानी से लिख सकते है, इनके साथ-साथ इसमें कई सारे tools होते हैं जिसकी मदद से document को edit background change, पूरी book भी type कर सकते हैं। यह course करने के लिए सिर्फ आपको hindi english का सही ज्ञान होना चाहिए। 

इन्हें 5th से ही students सीख सकता है। इनके साथ-साथ hindi english की typing सीखकर private job कर सकते हैं तथा कई government job ऐसी आती है, जिनमें typing course अनिवार्य माना जाता है इनके लिए  आप आवेदन कर सकते हैं।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स (cyber security course)

बढ़ते हुए computer का use तथा technology के बढ़ने के साथ-साथ cyber crime भी तेजी से बढ़ रहा है। हमारे data को सुरक्षित रखने के लिए cyber security की team होती है जो हमारे data को सुरक्षित रखती है। 

Cyber security course यदि हम certificate के लिए करते हैं तो 12th में math chemistry physics होना जरूरी है तथा मान्यता प्राप्त board  से उत्तीर्ण होना चाहिए। लेकिन यदि हम cyber security course डिग्री के लिए करते हैं तो इनके लिए हमें entrance exam देना जरूरी है। जैसे- Cyber security course में BA, BAC, BCA,B Tech आदि डिग्री course कर सकते हैं।

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग

Software engineering यह एक degree course होता है, तथा इसके साथ diploma in computer science में भी यह सब्जेक्ट होता है। Software engineering से तात्पर्य है कि ऐसे engineer जो software को user की जरूरत के अनुसार बनाते हैं और develop करते हैं software engineer कहलाते हैं, तथा software engineer बनने के लिए हमें software engineer का course करना होता है और यदि हम अपनी practice और मेहनत इनमें देते हैं और अपनी skills को develop कर लेते हैं तो उसमें हजारों रुपए का package भी मिलता है। 

Software engineer में software तथा application से जुड़ी छोटी से बड़ी सभी बातें सिखाई जाती है। यदि आप भी software बनाना चाहते हैं,और एक बढ़िया नौकरी पाना चाहते हैं तो आपको software engineer का course करना आवश्यक है।

डिप्लोमा इन आईटी एंड कंप्यूटर साइंस

Diploma in IT and Computer science यह ऐक graduate course होता है। इस कोर्स को किसी मान्यता प्राप्त board से 10वीं तथा 12वीं के बाद किया जा सकता है। इसके साथ-साथ यदि आपने 12वीं किसी मान्यता प्राप्त board से pcm (फिजिक्स, केमेस्ट्री,मैथ) से की है तो आपको second year  में direct admission भी मिल सकता है। 

आप diploma course करने के बाद degree course कर सकते हैं जिसमें अच्छा package मिलता है परंतु diploma in engineering science एंड IT  करने के बाद भी अच्छी job लग सकती है। Diploma in IT and computer science में आयु की कोई सीमा नहीं होती, आप कभी भी यह course कर सकते हैं।

हार्डवेयर मेंटेनेंस

अभी तक के blog में आपने देखा कि computer का उपयोग कितना बढ़ता जा रहा है। Computer भी क्योंकि एक मशीन है तो मशीन को भी maintenance की जरूरत होती है क्योंकि हम अपना काम तो कर लेते हैं लेकिन computer को सही तरीके से maintain नहीं कर पाते हैं, इसलिए hardware maintenance  एक course होता है, जिसमें computer से संबंधित सभी hardware को सुरक्षित रखना तथा देख रेख करना और उससे जुड़ी सभी चीजें सिखाई जाती है। 

कई government विभागों तथा निजी विभागों में hardware technology की जरूरत होती है जो hardware को maintain तथा कई computer को जोड़ने का काम करता है। इस कोर्स को 10वीं 12वीं के बाद भी किया जा सकता है।

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स

आज का दौर digital india का दौर हो गया है, आजकल सभी ऑफलाइन के बजाय ऑनलाइन चीजें खरीदने और पढ़ने के शौकीन होते हैं, तथा यह बहुत आसान भी होता है। इसमें document को आसानी से लिख लेते है, इनके साथ-साथ इसमें कई सारे tools होते हैं, जिसकी मदद से document को edit background change भी कर सकते हैं। 

यह course करने के लिए सिर्फ आपको hindi, english का सही ज्ञान होना चाहिए, इनके साथ-साथ hindi english की typing सीखकर private job कर सकते हैं, तथा कई government job ऐसी आती है जिनमें typing course अनिवार्य माना जाता है इनके लिए  आप आवेदन कर सकते हैं।

कंप्यूटर नेटवर्किंग

Networking से आशय है कि एक computer से दूसरे computer में data को भेजना। आजकल online transaction का जमाना है तथा हम online  कई apps के जरिए data को भेजते हैं, तो उस data  को सुरक्षित रखने और सुरक्षित रूप से भेजने के लिए कई विभागों में computer network का course किए हुए उम्मीदवार की आवश्यकता होती है।

computer network का कोर्स करने के बाद नेटवर्क इंजीनियर, नेटवर्क सिक्योरिटी एक्सपर्ट, नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर, computer network, टीम लीडर टेक्निकल हेड, टेक्निकल सपोर्ट इंजीनियर, सिस्टम एनालाइजर आदि बन सकते हैं। computer network का कोर्स 12वीं के बाद कर सकते हैं।

फोटोशॉप

“Photoshop” abode company द्वारा शुरू किया गया फोटो एडिटर सॉफ्टवेयर है। Photoshop का कोर्स computer science में भी किया जाता है। इसको सिखने के बहुत फायदे हैं, इसमें बहुत सारे काम होते हैं जैसे – फोटो, बैनर, पम्पलेट, visiting कार्ड, डिजिटल कार्ड आदि इस कोर्स को आप करके आसानी से जॉब पा सकते हैं 

बीटेक (B.tech)

बीटेक को बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग भी कहा जाता है। यह कोर्स एक डिग्री कोर्स होता है। इस course में वह student admission ले सकते हैं जिन्होंने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से  10th और 12th में 50% से अधिक नंबर से pass हुआ हो 

बीसीए (BCA)

BCA का पूरा नाम “Bachelor of Computer Applications” है। बीसीए का  कोर्स 3 साल का होता है। इस कोर्स में WEB DESIGNING, APPLICATION DEVELOPMENT, प्रोग्रामिंग language तथा बेसिक सिखाया जाता है। 

ग्राफिक डिजाइनिंग

Graphic designing course अपनी कला को प्रदर्शित करने का एक माध्यम है। यह course आपकी क्रिएटिविटी को बताता है। Graphic design course में टेक्स्ट और graphic की मदद से टेक्स्ट और इमेज को क्रिएटिव और यूनिक बनाया जाता है। ग्राफिक डिजाइनिंग सीखना उतना मुश्किल नहीं होता बस यह आपकी क्रिएटिविटी पर डिपेंड करता है।

एंड्रॉयड एप डेवलपमेंट

आज की दुनिया में हर व्यक्ति के पास android  होता है, तथा वह रोज एक नए app का use करता है। इसी को देखते हुए आज की दुनिया में android app development एक बेहतर career विकल्प आपके लिए हो सकता है। इसमें आप career बना सकते हैं। Android app development का course करने के बाद छोटी से बड़ी अनेक jobs आपके लिए होती है। यह course अभी बहुत प्रचलन में है।

Must read :-

12वीं के बाद डॉक्टर कैसे बने?

गणित (Math) में कौन कौन सी जॉब होती है?

12वीं के बाद डीएसपी कैसे बनें 

आशा करता हूं आपको कम्प्यूटर से जुड़ी सभी बातें समझ मै आ गई होगी 

ब्लॉग को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद 🙏

2 thoughts on “12वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची (12th ke bad computer course Suchi)”

  1. Pingback: जीएसटी में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye) -

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *