12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें

12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें | 12th ke bad engineer kaise bane

आज के इस लेख के माध्यम से हम जानने वाले हैं कि “12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें | 12th ke bad engineer kaise bane” तथा इससे संबंधित सभी प्रकार के सवालों का जवाब जानने वाले हैं जैसे :-  इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है | इंजीनियर की पढ़ाई कितने साल की होती है | इंजीनियर कितने प्रकार का होता है | 12वीं के बाद इंजीनियरिंग कोर्स | दसवीं के बाद इंजीनियर कैसे बने | इंजीनियर क्या काम करता है इत्यादि। 

इंजीनियर उस व्यक्ति को कहा जाता है जो अपनी काबिलियत से अपने प्रोफाइल सम्बन्धित डिजाइन, मशीन टेस्ट या अलग-अलग प्रयोग करके कुछ नया अविष्कार करने का काम करता है।

इंजीनियरिंग एक विशेष आवश्यकता को पूरा करने के लिए एक तकनीकी उत्पाद या प्रणाली के उत्पादन की प्रक्रिया होती है, इंजीनियर बनने के लिए डिप्लोमा और डिग्री की आवश्यकता पडती है।

विकिपिडिया के अनुसार अभियान्त्रिकी (Engineering) विज्ञान तथा व्यवसाय है जो मानव की विविध जरूरतों की पूर्ति करने में आने वाली समस्याओं का व्यावहारिक समाधान प्रस्तुत करता है। इसके लिये वह गणितीय, भौतिक व प्राकृतिक विज्ञानों के ज्ञानराशि का उपयोग करती है।

इंजीनियरी भौतिक वस्तुओं और सेवाओं का उत्पादन करती है; औद्योगिक प्रक्रमों का विकास एवं नियंत्रण करती है। इसके लिये वह तकनीकी मानकों का प्रयोग करते हुए विधियाँ, डिजाइन और विनिर्देश (specifications) प्रदान करती है।

12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें | 12th ke bad engineer kaise bane | engineer kitne prakar Ka hota hai | engineer ki padhaai kitne sal ki hoti hai | engineer ki salary kitni hoti hai | engineer kya Kam karta hai | how to become an engineer after 10th | engineering course after 12th
12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें | 12th ke bad engineer kaise bane

इंजीनियरिंग और इंजीनियर की उत्पत्ति फ्रेंच शब्दों Ingenierie और ingenieur से हुई है। ये शब्द पुरानी फ्रेंच के engigneor से व्युत्पन्न हैं, जिसका अर्थ युद्ध-मशीन का निर्माता है। 

शायद ही ऐसा कोई विद्यार्थी होगा जिसे इंजीनियर के बारे में नहीं पता होगा। 10 वीं कक्षा के बाद में हम इंजीनियरिंग क्षेत्र में जा सकते हैं और इसके लिए अलग अलग विभाग भी हैं, जिसमें हम अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई को पूरा कर सकते हैं। 

अक्सर लोगों के मन में यह सवाल रहता है कि “12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें | 12th ke bad engineer kaise bane” क्योंकि सटीक जानकारी उनको नहीं मिल पाती है, लेकिन अब घबराने कि जरूरत नहीं है।

आज के इस लेख के माध्यम से हम बीए से संबन्धित सभी प्रकार के सवालों का जवाब स्टेप बाय स्टेप बताने का प्रयास किए हैं, आप इस लेख को पूरा पढ़े ताकि आपको बारीकी से सभी प्रकार की जानकारी मिल पाए।

12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें | 12th ke bad engineer kaise bane

इंजीनियरिंग एक प्रकार का कोर्स है जिस कोर्स को 12वीं के बाद छात्र कर सकते हैं, इस कोर्स को करने के लिए 12वीं के बाद छात्र बी टेक में स्नातक स्तर की पढ़ाई किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से करना पड़ता है, जिसके बाद इंजीनियर बनने के लिए आप एलिजिबल हो जाते हैं।

जूनियर बनने के लिए आपको 12वीं की कक्षा में साइंस स्ट्रीम से पढ़ाई करनी होगी क्योंकि साइंस स्ट्रीम के छात्र ही इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिला ले सकते हैं।

भारत में इंजीनियरिंग के आईआईटी, बीआईटी, एनआईटी जैसे कई बड़े मान्यता प्राप्त संस्थान हैं जो इंजीनियरिंग के लिए दाखिला प्रदान करते हैं।

इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिला लेने के लिए छात्रों को जेईई मेन्स , जेईई एडवांस , GATE , BITSAT , CMAT, WBJEE , COMEDK UGET जैसे प्रवेश परीक्षा को उत्तीर्ण करना होता है और उनके प्राप्त रैंक के अनुसार उन्हें कॉलेज आवंटित की जाती है। 

ये कोर्स मुख्य रूप से 3 वर्ष का होता है, इसे सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद उन्हें इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त हो जायेगी और वो इंजीनियर बन सकते हैं।

इंजीनियर बनने के लिए किसी भी छात्र को कम से कम 3 साल की डिग्री या डिप्लोमा कोर्स करना अनिवार्य होता है, 3 साल की पढ़ाई के बाद छात्र को जिस विषय में सबसे ज्यादा रुचि होती है उस में स्नातक कोर्स (पोस्टग्रेजुएट) कर सकते है।

पोस्टग्रेजुएट करने के बाद आप एक इंजीनियर बन जाते हैं अगर आपकी रूचि किसी एक क्षेत्र में रिसर्च और डेवलपमेंट करने से है तो आपको अपनी फील्ड में पीएचडी करनी होगी।

उपरोक्त सभी को फॉलो करने के बाद आप एक इंजीनियर बन जाते हैं। 

जरुर पढ़ें :-गणित में कौन कौन सी जॉब होती है?

इंजीनियर कितने प्रकार का होता है (engineer kitne prakar Ka hota hai)

चलिए अब हम जानते हैं कि इंजीनियरिंग के कितने प्रकार होते हैं या इंजीनियरिंग कितने प्रकार के होते हैं और किस फील्ड में सबसे ज्यादा कमाई होती है जोकि निम्नलिखित है।

  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • सिविल इंजीनियरिंग
  • कंप्यूटर इंजीनियरिंग
  • पैट्रोलियम इंजीनियरिंग
  • ओसियन इंजीनियरिंग या महासागर इंजीनियरिंग
  • एथिकल हैकिंग
  • खेल टेक्नोलॉजी इंजीनियरिंग
  • कृषि इंजीनियरिंग
  • ध्वनि अभियंता इंजीनियरिंग
  • ऊर्जा इंजीनियरिंग
  • फोटोनिक्स इंजीनियरिंग
  • हाइड्रॉलिक इंजीनियरिंग
  • जनन विज्ञान अभियांत्रिकी इंजीनियरिंग

इसके अलावा भी कई इंजीनियरिंग होते हैं जिसको आप करके अपना करियर बना सकते हैं, और पैसे कमा सकते हैं।

जरुर पढ़ें :-पीसीएस (Pcs) में कौन कौन सी पोस्ट होती है

इंजीनियर की पढ़ाई कितने साल की होती है (engineer ki padhaai kitne sal ki hoti hai)

इंजीनियर  की पढ़ाई की बात किया जाए तो इंजीनियर बनने के लिए सबसे पहले आपको 12वीं के बाद आपको 4 साल तक b. tech की पढ़ाई करनी होती है, B Tech 4 साल का होता है। 4 साल की पढ़ाई पूरी करने के बाद आपको इंजीनियरिंग की डिग्री मिलती है। 

12वीं पास करने के बाद इंजीनियर की पढ़ाई में लगने वाली समय की बात किया जाए तो b tech करने में 4 साल का समय लग सकता है, लेकिन किसी किसी कॉलेज में ज्यादा समय भी लगता है।  

यह भी पढ़ें :-पीएचडी कितने साल की होती है

इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है (engineer ki salary kitni hoti hai)

इंजीनियर की सैलरी की बात किया जाए तो इंजीनियरों की सैलरी एक समान नहीं होती है उनकी सैलरी उनके काबिलियत के हिसाब से भी दिया जाता है।

वैसे इंजीनियर की सैलरी उसकी कंपनी पोजिशन और अनुभव पर निर्भर करती है अगर एवरेज सैलेरी की बात की जाए तो मेकेनिकल इंजीनियर की सैलरी लगभग ₹250000 लाख से ₹800000 तक सलाना या इससे भी अधिक हो सकती है।

बहुत जगहों पर मेकेनिकल इंजीनियरिंग साथियों को 700000 से ₹1000000 तक सालाना पैकेज भी दिया जाता है।

वहीं अगर कंप्यूटर इंजीनियर की सैलरी की बात किया जाए तो उनकी सैलरी ₹300000 से लेकर ₹1000000 तक चलाना हो सकती है। 

फेसबुक ट्विटर गूगल जैसी बड़ी कंपनियां इंजीनियरों को लगभग ₹1 करोड़ तक का सालाना ऑफर देती है, जो कि बहुत अधिक होती है।

अगर सिविल इंजीनियर की बात किया जाए तो लगभग शुरुआत में 300000 से ₹500000 तक चलाना मिलता है वही इलेक्ट्रिक इंजीनियर को दो से चार लाख सलाना मिल सकता है।

यह भी पढ़ें :-बीए में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं 

इंजीनियर क्या काम करता है (engineer kya Kam karta hai)

इंजीनियरिंग लोगों को लाभ पहुंचाने वाली चीजों को बनाने के लिए वैज्ञानिक और गणितीय सिद्धांतों, अनुभव, निर्णय और सामान्य ज्ञान को लागू करने की कला है। 

इंजीनियर पुलों और महत्वपूर्ण चिकित्सा उपकरणों के साथ-साथ बड़े पैमाने पर संक्रमण के लिए विषाक्त फैल और प्रणालियों की सफाई के लिए प्रक्रियाओं को डिजाइन करते हैं। इंजीनियरिंग एक विशिष्ट आवश्यकता को पूरा करने के लिए एक तकनीकी उत्पाद या प्रणाली के उत्पादन की प्रक्रिया है।

यह भी पढ़ें :-टीचर बनने के लिए क्या करें

इंजीनियरिंग के लिए टॉप 10 कॉलेज

इंजीनियरिंग के लिए टॉप 10 कॉलेजों का लिस्ट नीचे दिया गया है जिसमे आप अड्मिशन लेके अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी कर सकते है, जो कि निम्नलिखित है। 

  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी दिल्ली
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी खरगपुर
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी मुंबई
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी कानपुर
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी रुड़की
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी गुवाहाटी
  • बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी पिलानी
  • दिल्ली टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी दिल्ली
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी धनबाद
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी इंदौर

जरुर पढ़ें :-डाटा एंट्री कोर्स कितने साल का होता है

दसवीं के बाद इंजीनियर कैसे बने? (how to become an engineer after 10th?)

10वीं पास करने वाले उम्मीदवार डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए आवेदन कर सकते हैं। जिन छात्रों ने इंजीनियरिंग कोर्स में डिप्लोमा पूरा कर लिया है, वे बी.टेक के लिए जा सकते हैं, जिसमें उन्हें अपनी इंजीनियरिंग पूरी करने में तीन साल लगते हैं।

इंजीनियर  की पढ़ाई की बात किया जाए तो इंजीनियर बनने के लिए सबसे पहले आपको 12वीं के बाद आपको 4 साल तक b. tech की पढ़ाई करनी होती है, B Tech 4 साल का होता है। 4 साल की पढ़ाई पूरी करने के बाद आपको इंजीनियरिंग की डिग्री मिलती है, उसके बाद आप एक इंजीनियर बन जाते हैं।

जरुर पढ़ें :-इंफोसिस क्या है?

12वीं के बाद इंजीनियरिंग कोर्स? (engineering course after 12th)

बहुत सारे छात्रों के मन में यह सवाल रहता है कि 12वीं के बाद इंजीनियर बनने के लिए कौन कौन से इंजीनियरिंग कोर्स है, जिसका जबाब नीचे दिया गया है जो कि निम्नलिखित है। :-

  • B.E/B.Tech in Computer Science Engineering
  • B.E/B.Tech in Electronics and Communication Engineering
  • B.E/B.Tech in Electrical Engineering
  • B.E/B.Tech in Electrical and Electronics Engineering
  • B.E/B.Tech in Civil Engineering
  • B.E/B.Tech in Chemical Engineering
  • B.E/B.Tech in Instrumentation and Control Engineering
  • B.E/B.Tech in Electronics Engineering
  • B.E/B.Tech in Electronics and Telecommunication Engineering
  • B.E/B.Tech in Petroleum Engineering
  • B.E/B.Tech in Aeronautical Engineering
  • B.E/B.Tech in Automobile Engineering
  • B.E/B.Tech in Mining Engineering
  • B.E/B.Tech in Power Engineering
  • B.E/B.Tech in Production Engineering
  • B.E/B.Tech in Biotechnology Engineering
  • B.E/B.Tech in Genetic Engineering
  • B.E/B.Tech in Plastics Engineering
  • B.E/B.Tech in Mechanical Engineering
  • B.E/B.Tech in Aerospace Engineering
  • B.E/B.Tech in Motorsport Engineering
  • B.E/B.Tech in Geoinformatics
  • B.E/B.Tech in Information Technology
  • B.E/B.Tech in Food Processing and Technology
  • B.E/B.Tech in Agricultural Engineering
  • B.E/B.Tech in Environmental Engineering
  • B.E/B.Tech in Dairy Technology and Engineering
  • B.E/B.Tech in Agricultural Information Technology
  • B.E/B.Tech in Infrastructure Engineering
  • B.E/B.Tech in Metallurgy Engineering
  • B.E/B.Tech in Textile Engineering
  • B.E/B.Tech in Marine Engineering
  • B.E/B.Tech in Naval Architecture
  • B.E/B.Tech in Petrochemical Engineering
  • B.E/B.Tech in Polymer Engineering
  • B.E/B.Tech in Geotechnical Engineering
  • B.E /B.Tech in Nuclear Engineering

जरुर पढ़ें :-न्यूट्रॉफिल क्या है?

CONCLUSION

दोस्तों, आज के इस लेख (article) के माध्यम से आप लोग समझ गए होंगे कि “12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें | 12th ke bad engineer kaise bane” जिसकी पुरी जानकारी इस लेख में दिया गया है। 

यदि आपको यह जानकारी “12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें | 12th ke bad engineer kaise bane” अच्छी लगी हो तो आप  WhatsApp, Facebook के जरिये Share भी कर सकते हैं, ताकि और भी लोगों को यह जानकारी मिल पाए।

आपके मन में यदि कोई सवाल एवं सुझाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट कर के हमे पूछ सकते हैं, जल्द से जल्द आपके सवालों का जवाब देने का प्रयास किया जाएगा, धन्यवाद।

यह भी पढ़ें :-

आज हमलोगों ने जाना :-

12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें | 12th ke bad engineer kaise bane | engineer kitne prakar Ka hota hai | engineer ki padhaai kitne sal ki hoti hai | engineer ki salary kitni hoti hai | engineer kya Kam karta hai | how to become an engineer after 10th | engineering course after 12th

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *