ANM Ki Fees Kitni Hai

ANM Ki Fees Kitni Hai | ANM की फीस कितनी है 

ANM ki fees kitni hai | ANM की फीस कितनी है आज के इस लेख के माध्यम से हम इसी के बारे में जानने वाले हैं और साथ ही ANM से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी को आज हम जानने वाले हैं।

ANM का फुल फॉर्म Auxiliary Nurse Midwifery होता है जिस का हिंदी में मतलब सहायक नर्स दाई सेवा होता है जिसके अंतर्गत लड़कियों को अपना कैरियर बनाने का मौका मिलता है।

एएनएम मेडिकल नर्सिंग क्षेत्र में एक नर्सिंग डिप्लोमा कोर्स होता है जो केवल महिला उम्मीदवार भी कर सकते हैं अर्थात इस कोर्स को सिर्फ महिला भी कर सकते हैं।

इस कोर्स में छात्राओं को चिकित्सा से संबंधित ट्रेनिंग दी जाती है इस कोर्स की अवधि लगभग 2 साल की होती है इस कोर्स को पूरा करने के बाद छात्रा को एक नर्सिंग में डिप्लोमा सर्टिफिकेट मिलता है।

साथ ही यह भी बता दें कि एएनएम को पूरा करने के बाद इंटरशिप भी करनी होती है जो कि 6 महीने का होता है इस कोर्स के अंतर्गत मैटरनल हेल्थ केयर और प्रेगनेंसी गर्भावस्था से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी दी जाती है।

आपको यह जानकारी होना चाहिए कि एएनएम का कोर्स चिकित्सा विज्ञान में सबसे महत्वपूर्ण और पॉपुलर कोर्स में से एक माना जाता है, इसलिए इसमें कंपटीशन भी थोड़ा बहुत रहता है।

यदि आप भी एएनएम में एडमिशन लेना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको ट्वेल्थ में कम से कम 45 परसेंट मार्क लाना अनिवार्य हो जाता है।

यदि आप तो आरक्षण सीट वाले छात्रा है तो आपके लिए 40 परसेंट मार्क्स लाना अनिवार्य है क्योंकि इससे कम अंक लाने पर आपका एडमिशन नहीं हो सकता है।

ANM Ki Fees Kitni Hai | ANM की फीस कितनी है | ANM के बाद क्या करे? | ANM में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? | ANM कोर्स क्या है? | ANM Ke Kya Kya Karya Hote Hain
ANM Ki Fees Kitni Hai | ANM की फीस कितनी है 

आज के इस लेख के माध्यम से हम जानने वाले हैं कि एएनएम की फीस कितनी है (ANM ki fees kitni hai) और एएनएम कोर्स को करने से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी को जानने वाले हैं।

यदि आप अभी एएनएम से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी को जानने वाले हैं तो आप इस लेख को पूरा अंत तक पढ़े ताकि आप अच्छे से और बारीकी से सब कुछ समझ पाए।

ANM ki fees kitni hai | ANM की फीस कितनी है

एएनएम कोर्स की फीस की बात किया जाए तो यह प्रत्येक कॉलेजों में अलग-अलग होती है, तो चलिए जानते हैं कि एएनएम कोर्स की फीस कितनी होती है।

यदि आप सरकारी संस्थान से एएनएम कोर्स करते हैं तो आपकी फीस बहुत कम होती है लेकिन यदि आप प्राइवेट संस्थानों से एएनएम कोर्स करते हैं तो अब तो लगभग 50,000 से ₹1,00,000 प्रति वर्ष लग सकते हैं।

सरकारी संस्थान से एएनएम कोर्स को करने पर आपको बहुत कम फीस देना पड़ता है सरकारी नर्सिंग कॉलेजों में एएनएम कोर्स की फीस लगभग 20000 से ₹40000 प्रति वर्ष होती है जो अलग-अलग सरकारी संस्थानों की फीस अलग अलग हो सकती है।

सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है एंट्रेंस एग्जाम पास करने के बाद ही आप सरकारी कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं।

वही जरी प्राइवेट कॉलेजों की बात किया जाए तो अब बिना एंट्रेंस एग्जाम दिए भी प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं, लेकिन इसमें आपको फ़ीस ज्यादा देना पड़ सकता है।

चलिए अब हम डिटेल में जानते हैं कि सरकारी संस्थानों तथा प्राइवेट संस्थानों में एएनएम की फीस कितनी है (ANM ki fees kitni hai) तथा दोनों में से कौन सा संस्थान सबसे अच्छा माना जाता है।

सरकारी कॉलेजों में एएनएम कोर्स की फीस

यदि सरकारी कॉलेज का बात किया जाए तो यह प्राइवेट कॉलेजों के तुलना में बहुत कम फीस लेती है। सरकारी कॉलेज में फीस कम होती है लेकिन उस में एडमिशन लेने के लिए आपको एक एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है।

एंट्रेंस एग्जाम पास करने के बाद आप सरकारी कॉलेजों में एडमिशन ले सकते हैं अन्यथा आप सरकारी कॉलेजों में एडमिशन नहीं ले सकते हैं।

सरकारी कॉलेजों में एएनएम कोर्स की फीस की बात किया जाए तो यह लगभग ₹10000 से ₹50000 तक हो सकती है जो कि सभी कॉलेजों में अलग-अलग फ़ीस हो सकती है।

सरकारी कॉलेजों का फीस प्राइवेट कॉलेजों की तुलना में बहुत कम होती है अर्थात आप एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करके सरकारी कॉलेज में ही अपना एडमिशन करवाएं।

प्राइवेट कॉलेजों में एएनएम कोर्स की फीस

प्राइवेट कॉलेजों मैं एएनएम कोर्स किस चीज का बात किया जाए तो यह सरकारी कॉलेजों की तुलना में बहुत अधिक होती है।

सभी प्राइवेट कॉलेजों में अलग अलग चीज होती है किसी कॉलेजों में कम फीस होती है तो किसी कॉलेजों में अधिक फ़ीस होती है।

प्राइवेट कॉलेजों में 30 लगभग 50000 से ₹300000 तक हो सकती है यह कॉलेज पर निर्भर होती है कि किस कॉलेज में आप अपना एडमिशन ले रहे हैं और उस कॉलेज की फीस कितनी है।

चलिए अब हम जानते हैं कि भारत के टॉप 10 ANM कॉलेज के नाम और इसकी एएनएम कोर्स फीस कितनी है जो कि निम्नलिखित दिया गया है।

ANM College NameANM Course Fees
YBN University, Ranchi₹ 1,00,000
Assam Down Town University, Guwahati₹ 3,00,000
Rama University, Kanpur₹ 1,50,000
Hind Institute of Medical Sciences, Barabanki₹ 70,000
IIMT University, Meerut₹ 1,50,000
Era University, Lucknow₹ 1,45,000
Glocal University, Saharanpur₹ 1,20,000
Lord Krishna College of Nursing, Datia₹ 90,000
Krishnaguru Adhyatmik Visvavidyalaya, Nasatra₹ 2,40,000
Shri Guru Ram Rai University, Dehradun₹ 2,58,000

नोट :- हमारे द्वारा दिए गए ऊपर सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज की फीस की जानकारी और वर्तमान समय में उन कॉलेज की फीस के आंकड़े में अंतर हो सकता है। क्योंकि कॉलेज समय-समय पर अपनी फीस में बदलाव करते रहते हैं। इसलिए विद्यार्थी को फीस से संबंधित जानकारी कॉलेज की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर जरूर प्राप्त कर लेनी चाहिए।

जरुर पढ़ें :BIO में कौन कौन सी जॉब होती है

ANM के बाद क्या करे?

एनएम कोर्स को पूरा करने के बाद आपको नर्स की ट्रेनिंग दी जाती है और बहुत सारी दवाइयों के बारे में भी बताया जाता है और साथ में यह भी बताया जाता है कि मरीजों का इलाज कैसे किया जाता है।

आप चाहे तो इसके बाद डॉक्टर की भी तैयारी कर सकते हैं और आप एक डॉक्टर भी बन सकते हैं। हालांकि एएनएम कोर्स में भी बहुत सारी दवाइयों के बारे में बताया जाता है।

लेकिन इसके बाद आपको अस्पताल के द्वारा स्पेशल ट्रेनिंग दी जाती है जिसमें आपको प्रत्येक दवाइयों के काम और उससे संबंधित सभी प्रकार की जानकारी दी जाती है।

एएनएम कोर्स को पूरा करने के बाद आप किसी अस्पताल को ज्वाइन करें और सभी प्रकार की जानकारी हासिल करें वहां स्पेशल ट्रेनिंग आपको आपकी बड़ी डॉक्टरों के द्वारा दिया जाएगा।

हालांकि एएनएम कोर्स को पूरा करने के बाद ही आपको अस्पताल में भेज दिया जाता है ताकि वह आप जानकारी हासिल कर सकें और अपने स्किल को बढ़ा सकें।

एएनएम कोर्स के बाद आप निम्नलिखित कोर्स भी कर सकते हैं और अपना स्किल को बढ़ा सकते हैं वह कोर्स निम्नलिखित है।

  • बीएससी इन नर्सिंग ( BSc Nursing)
  • बीएससी ऑनर्स इन नर्सिंग ( NSc (H) Nursing)
  • पोस्ट बेसिक बीएससी इन नर्सिंग ( Post Basic BSc Nursing)

यह सब कोर्स आप एएनएम कोर्स को करने के बाद कर सकते हैं इसके अलावा भी बहुत सारे कोर्स होते हैं जिनको आप एएनएम करने के बाद एजुकेशन के रूप में कर सकते हैं।

जरुर पढ़ें :-प्राइवेट डॉक्टर कैसे बने

ANM में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

एएनएम कोर्स में सब्जेक्ट की बात किया जाए तो यह उसके सिलेबस था विषय पर आधारित होता है अर्थात वह किस सब्जेक्ट की कोर्स करना चाह रहे हैं और उसकी सिलेबस क्या क्या है।

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि इसमें 2 वर्ष का टॉर्च होता है जिसमें से फर्स्ट वर्ष तथा सेकंड वर्ष दोनों में अलग-अलग विषय होते हैं।

चलिए अब हम जानते हैं कि फर्स्ट वर्ष के सिलेबस तथा सेकंड वर्ष के सिलेबस में कौन-कौन से सब्जेक्ट शामिल किए गए हैं जिसकी आप पढ़ाई कर सकते हैं।

प्रथम वर्ष सिलेबस ( 1st year ANM Course Syllabus)

  • प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल नर्सिंग (Primary Health Care Nursing)
  • बाल स्वास्थ्य नर्सिंग (Child Health Nursing)
  • सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग (Community Health Nursing)
  • स्वास्थ्य प्रचार (Health Promotion)

द्वितीय वर्ष सिलेबस ( 2nd year ANM Course Syllabus)

  • दाई का काम  (Midwifery)
  • स्वास्थ्य केंद्र प्रबंधन (Health Center Management)

ऊपर दिए गए पाठ्यक्रम के आधार पर एएनएम कोर्स को पढ़ाया जाता है। एएनएम कोर्स की विषय इसी पाठ्यक्रम पर आधारित होती है।

आप यहां यूज कर सकते हैं कि आपको कौन से विषय में ज्यादा रूचि लगती है और आप कौन से विषय की पढ़ाई करना चाहते हैं।

जिस विषय में आपकी ज्यादा रूचि होती है उस विषय को आप रख कर उसकी पढ़ाई आप कर सकते हैं।

जरुर पढ़ें :स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर कैसे बनें

एएनएम कोर्स के लिए टॉप कॉलेज | Top College for ANM in India

यदि आप एएनएम कोर्स के जरिए एक अच्छी जॉब पाना चाहते हैं या अच्छी सैलरी वाला जॉब पाना चाहते हैं तो आपको किसी अच्छे संस्थान से एएनएम कोर्स करना आवश्यक होता है।

भारत में तो एएनएम कोर्स कराने वाले बहुत सारे कॉलेज हैं जहां पर इस कोर्स को कराया जाता है चलिए जानते हैं कि भारत के टॉप टेन कॉलेज कौन से हैं जो एएनएम कोर्स को कराते हैं।

  • आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, दिल्ली
  • विवेकानंद कॉलेज ऑफ नर्सिंग, लखनऊ
  • क्रिस्चियन मेडिकल कॉलेज, बेल्लूर, तमिलनाडु
  • अपोलो स्कूल ऑफ नर्सिंग, दिल्ली
  • रुहेलखंड मेडिकल कॉलेज, बरेली
  • राजीव गांधी पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट, दिल्ली
  • आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, भुवनेश्वर
  • आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हाइजीन एंड पब्लिक हेल्थ, कोलकाता
  • एरा नर्सिंग कॉलेज, लखनऊ
  • अहिल्याबाई कॉलेज ऑफ नर्सिंग, दिल्ली
  • जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च

जरुर पढ़ें :सर्जन डॉक्टर कैसे बने

ANM कोर्स क्या है?

एएनएम कोर्स के बारे में बात किया जाए तो एएनएम कोर्स का पूरा नाम auxiliary nursing midwifery होता है, जिसको हिन्दी में सहायक नर्स दाई सेवा कहते हैं। 

एएनएम कोर्स नर्सिंग में 2 वर्ष का एक डिप्लोमा कोर्स होता है उसके बाद आप एक नर्स के तौर पर नौकरी लेने के काबिल हो जाते हैं।

इस कोर्स में छात्रों को मेडिकल क्षेत्र में प्रयोग होने वाले उपकरणों का प्रयोग करना सिखाया जाता है तथा साथ ही नरसिंह फील्ड के अंतर्गत कार्यों से संबंधित जानकारी दी जाती है।

एएनएम कोर्स कर लेने के बाद आपको प्रोफेशनल डॉक्टर के अंदर सहायक नर्स के रूप में काम करने का अवसर प्राप्त होता है अर्थात आप किसी प्रोफेशनल डॉक्टर के अंदर एक नर्स के रूप में अपना सेवा दे सकते हैं।

इस कोर्स से संबंधित एक सबसे बड़ी और खास बात यह है कि इस कोर्स को केवल लड़कियां ही कर सकते हैं अर्थात यह कोर्स को लड़के नहीं कर सकते हैं।

इसकी एजुकेशन क्वालिफिकेशन की बात की जाए तो इसका मिनिमम क्वालीफिकेशन ट्वेल्थ पास होना जरूरी है क्योंकि यह एक नर्सिंग का कोर्स होता है इसलिए दसवीं के बाद साइंस में बायोलॉजी लेना अति आवश्यक माना जाता है।

साथ ही साथ ट्वेल्थ के एग्जाम में उम्मीदवार का अंक कम से कम 45% से अधिक होना चाहिए या 45% होना चाहिए उससे कम मयंक होने पर वह इस कोर्स को करने से वंचित रह जाते हैं।

जरुर पढ़ें :-नीट की फीस कितनी है

ANM के क्या क्या कार्य होते है (ANM Ke Kya Kya Karya Hote Hain)

एएनएम के कार्य की बात किया जाए तो इनके कार्य बच्चे का टीकाकरण करवाना, डॉक्टरों की मदद करना , मरीज की देखभाल करना, मरीजों के रिकॉर्ड्स को मैंटेन रखना।

साथ ही सभी इंस्ट्रूमेंट्स को ठीक तरीके से रखना, माँ और बच्चे के सेहत के साथ फॅमिली की प्लानिंग योजना और first aid, न्यूट्रिशन, सामान्य बीमारी पर उपचार करना, डॉक्टर के निर्देश पर मरीजों को दवाई देना और इसके इलावा कई कार्य होते है जो ANM को करने होते है।

CONCLUSION :- ANM ki fees kitni hai

आपको इस लेख के माध्यम से हमने बताने का कोशिश किया है कि एएनएम की फीस कितनी है (ANM ki fees kitni hai) और इससे संबंधित सभी प्रकार के सवालों का भी जवाब इस लेख में दिया गया है।

आज का यह लेख एएनएम की फीस कितनी है (ANM ki fees kitni hai) जिसको अच्छे से बताने का कोशिश किया गया है और यह उम्मीद करता हूं कि आपको यह लेख बहुत पसंद आया होगा।

आप लोग जरूर बताएं कि आज का यह लेख आप लोगों को कैसा लगा और यदि इसके बाद भी आपके मन में किसी प्रकार का सवाल या सुझाव हो तो आप कमेंट बॉक्स में अपना कमेंट कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें :-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *