ब्लैक कैट कमांडो कैसे बने | Black Cat Commando Kaise Bane

आज के इस लेख (article) के माध्यम से हम जानने वाले हैं कि ब्लैक कैट कमांडो कैसे बने | Black Cat Commando Kaise Bane और आज हम इसी के ऊपर पूरी डिटेल के साथ बारीकी से बात करने वाले हैं।

आपको बता दें कि ब्लैक कैट कमांडो देश के सबसे खतरनाक और ताकतवर कमांडो में से एक माने जाते हैं। एन एस जी द्वारा कमांडो को ट्रेनिंग दी जाती है और इस ट्रेनिंग को पूरा करने के बाद एक आम सैनिक ब्लैक कैट कमांडो बन जाता है, इस ट्रेनिंग के लिए सैनिक का उम्र 35 साल से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

एक ब्लैक कैट कमांडो बनने के लिए कड़ी से कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। सबसे पहले एक कमांडो को ब्लैक कैट कमांडो बनाने के लिए उसे उच्च श्रेणी में ट्रांसफर किया जाता है, उसके बाद कड़ी ट्रेनिंग के बाद एक कमांडो को ब्लैक कैट कमांडो बनाया जाता है।

बताया जाता है कि ये देश के चुने हुए जवान होते हैं, जो मुश्किल से मुश्किल परिस्थियों में भी लोगों की जान बचाते हैं। यहां तक कि 26/11 के आंतकी हमले में भी इन्हीं जवानों ने सबसे आखिर में मोर्चा संभाला था। यह कमांडो सिर से पांव तक काले रंग के कपड़ों में ढके रहते हैं इसलिए इन्हें ब्लैक कैट कमांडो कहा जाता है।

ब्लैक कैट कमांडो कैसे बने | Black Cat Commando Kaise Bane | Black Cat Commando ki Salary | Commando ki Training Kitne Din ki Hoti Hai | Commando Banne ke Liye Kitni Padhai Karni Padti Hai | Black Commando Banne ke Liye Kya Yogyata Honi Chahiye
ब्लैक कैट कमांडो कैसे बने | Black Cat Commando Kaise Bane

गृह मंत्रालय के तहत सात केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल आते हैं, उसमें से ही एक नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (NSG) है, जिन्हें हम ब्लैक कैट कमांडो कहते हैं, वो नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (NSG) के जवान होते हैं।

इस फोर्स का गठन साल 1984 में किया गया था, ताकि देश के विशिष्ट लोगों की सुरक्षा की जाए। इस कमांडो की सीधी भर्ती एनएसजी में नहीं होती है। इसकी ट्रेनिंग के लिए भारतीय सेना और अर्धसैनिक बलों के सर्वश्रेष्ठ जवानों को चुना जाता है। इसकी ट्रेनिंग बहुत ही कठिन होती है। 

बता दें कि एनएसजी में चुने जाने वाले कमांडो में 53% कमांडो भारतीय सेना से आते हैं, शेष 45% कमांडो सीआरपीएफ, आइटीबीपी, आरएएस और बीएसएफ से चुने जाते हैं। बता दें कि सेना में कम से कम 10 साल काम करने के बाद कमांडो की ट्रेनिंग में भाग लिया जा सकता है।

बहुत सारे लोग ब्लैक कैट कमांडो बनना चाहते हैं ऐसे में अक्सर लोगों के मन में यह सवाल रहता है कि ब्लैक कैट कमांडो कैसे बने | Black Cat Commando Kaise Bane तो आज के इस लेख में हम इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं।

आप इस लेख (article) को पूरा अंदर तक पढ़ा था कि आपको ब्लैक कैट कमांडो से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी को बारीकी से समझ आ जाए और आपको एक ब्लैक कैट कमांडो बनने के लिए जो प्रोसेस होते हैं उसकी जानकारी मिले।

ब्लैक कैट कमांडो कैसे बने | Black Cat Commando Kaise Bane

ब्लैक कैट कमांडो बनने के लिए सबसे पहले आपको कमांडो बनना बहुत जरूरी है, क्योंकि कमांडो बनने के बाद ही आप ब्लैक कैट कमांडो बन सकते हैं, तो कमांडो बनने के बाद की जो प्रक्रिया है उसे नीचे बताया गया है।

एनएसजी में एक कमांडो का चुनाव कई चरणों के बाद होता है। कमांडो बनने आए उम्‍मीदवारों को सबसे पहले एक हफ्ते की कठोर ट्रेनिंग दी जाती है। इस ट्रेनिंग के दौरान ही करीब 80% सैनिक या तो फेल हो जाते हैं या ट्रेनिंग छोड़कर चले जाते हैं। मात्र 20% सैनिक ही आखिरी दौड़ में पहुंचने में सफल होते हैं।

इन चुने गए जवानों को इसके बाद 90 दिन की कड़ी ट्रेनिंग दी जाती है। इसमें इन सैनिकों को हथियारों के साथ लड़ाई करने के अलावा बिना हथियारों के दुश्मनों पर हमला करने और उनके हमले से बचने के लिए ट्रेनिंग दी जाती है।

बता दें कि, इस ट्रेनिंग के दौरान सैनिकों को आग के गोले और गोलियों की बौछारों के बीच बचकर निकलना होता है। एनएसजी के इस 3 महीने की कठिन ट्रेनिंग को पास करने वाले सैनिक देश के सबसे खतरनाक और ताकतवर कमांडो में शामिल होने के योग्य बनते हैं।

एनएसजी द्वारा दी जानी वाली ट्रेनिंग गेम चेंजर होती है। इस ट्रेनिंग को पूरा कर आम सैनिक ब्लैक कैट कमांडो बन जाता है। एक ब्लैक कैट कमांडो बनने के लिए कठिन ट्रेनिंग मैं से गुजरना पड़ता है, जो कि निम्नलिखित है।:-

  • इस फिजिकल ट्रेनिंग के लिए उम्र 35 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। 
  • इसके लिए सबसे पहले फिजिकल और मेंटल टेस्ट होता है। 
  • 12 हफ्ते तक चलने वाली यह देश की सबसे कठिन ट्रेनिंग होती है। 
  • शुरुआत में जवानों में 30% से 40% फिटनेस योग्यता होती है जो ट्रेनिंग खत्म होने के बाद बढ़कर 90% तक हो जाती है। 
  • ब्‍लैक कैट कमांडो को एक गोली से एक जान लेने की ट्रेनिंग दी जाती है। 
  • कमांडो को आंख बंद करके निशाना लगाने से लेकर अंधेरे में निशाना लगाने की भी ट्रेनिंग होती है। 
  • एनएसजी ड्राइवर चुनने के लिए अलग से प्रक्रिया बनाई जाती है। 
  • इन्‍हें खतरनाक रास्तों, बारूदी सुरंगों और हमलावरों से घिर जाने की स्थिति में निकलने की ट्रेनिंग दी जाती है। 
  • इन कमांडो को बैटल असाल्ट ऑब्सक्टल कोर्स और सीटीसीसी काउंटर टेररिस्ट कंडिशनिंग कोर्स की भी ट्रेनिंग दी जाती है। 
  • सबसे अंत में मनोवैज्ञानिक टेस्ट होता है।

ऊपर दिए गए निम्नलिखित टेस्ट को पास करने के बाद आप एक ब्लैक कैट कमांडो बनने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं और यह सब टेस्ट पूरी तरह से पास करने के बाद आप एक ब्लैक कैट कमांडो बन जाते हैं।

ब्लैक कमांडो बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? (Black Commando Banne ke Liye Kya Yogyata Honi Chahiye)

ब्लैक कैट कमांडो बनने के लिए हर कोई एलिजिबल नहीं होते हैं, इसमें सबसे पहले आपको आर्मी, पैरामिलिट्री फोर्स या पुलिस में होना जरूरी होता है।

उसके बाद आपसे फिजिकल ट्रेनिंग ली जाती है, ध्यान रहे फिजिकल ट्रेनिंग के लिए उम्र 35 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए ट्रेनिंग के बाद बहुत सारे टेस्ट लिए जाते हैं, उसके बाद ब्लैक कैट कमांडो बनाया जाता है।

यदि आप किसी भी टेस्ट में असफल रहते हैं तो ब्लैक कैट कमांडो नहीं बन पाते हैं और सभी टेस्ट पास करने के बाद कठोर ट्रेनिंग के साथ आपका ब्लैक कैट कमांडो के रूप में चयन किया जाता है।

यह भी पढ़ें :-कर्नल की सैलरी कितनी होती है

ब्लैक कैट कमांडो की सैलरी (Black Cat Commando ki Salary)

ब्लैक कैट कमांडो का जॉब जितना टफ होता है, उतनी ही शानदार इनकी सैलरी होती है। इन्हें एक आईएएस और पीसीएस अधिकारी की तरह सैलरी दी जाती है।

इन्हें प्रतिमाह ₹84000 से लेकर ₹250000 तक की सैलरी मिल सकती है, इसकी औसत सैलरी की बात किया जाए तो लगभग ₹150000 प्रतिमाह मिलती है।

एनएसजी में ऑपरेशन ड्यूटी पर आने वाले ऑफिसर्स को 27,800 रुपए सालाना और नॉन ऑपरेशनल ड्यूटी करने वाले जवानों को सालाना 21,225 रुपए का ड्रेस भत्ता भी मिलता है। 

इनकी सैलरी इनकी फील्‍ड नियुक्ति पर निर्भर करती है। इसके अलावा इन्हें कई तरह की सुविधाएं और भत्ते भी दिए जाते हैं, जो एक नॉर्मल कमांडो की सैलरी और सुविधाओं से बहुत अधिक होती है।

यह भी पढ़ें :-BSF कैसे ज्वाइन करें

कमांडो बनने के लिए कितनी पढ़ाई करनी पड़ती है? (Commando Banne ke Liye Kitni Padhai Karni Padti Hai)

कमांडो बनने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास होनी चाहिए, उसके बाद ही कमांडो के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

कैंडिडेट पूरी तरह से शारीरिक रूप से बिल्कुल फिट होना चाहिए, क्योंकि कमांडो में जॉब करने के लिए कंडीडेट को मानसिक और शारीरिक रूप से फिट होना बहुत जरूरी है।

इसमें एग्जाम क्लियर करने होते हैं, एक्जाम क्लियर करने के बाद मेडीकल जांच होता हैं, उसे भी पास करना अनिवार्य है, मेडीकल जांच पास करने के बाद आपका इंटरव्यू भी लिया जाता है, उसके बाद आप एक कमांडो बन जाते हैं।

यह भी पढ़ें :-इंडियन आर्मी की सैलरी कितनी होती है

कमांडो की ट्रेनिंग कितने दिन की होती है? (Commando ki Training Kitne Din ki Hoti Hai)

कमांडो बनने आए उम्‍मीदवारों को सबसे पहले एक हफ्ते की कठोर ट्रेनिंग दी जाती है। इस ट्रेनिंग के दौरान ही करीब 80% सैनिक या तो फेल हो जाते हैं या ट्रेनिंग छोड़कर चले जाते हैं। 

मात्र 20% सैनिक ही आखिरी दौड़ में पहुंचने में सफल होते हैं। इन चुने गए जवानों को इसके बाद 90 दिन की कड़ी ट्रेनिंग दी जाती है।

ऐसे में देखा जाए तो एक कमांडो को हमेशा ट्रैनिंग दिया जाता है, अर्थात वह हमेशा ट्रैनिंग में ही रहते हैं, लेकिन कमांडो बनने के दौरान उन्हे लगभग 90 दिनों की ट्रैनिंग दी जाती है।

Conclusion

दोस्तों, हम उम्मीद करते है कि आज के इस लेख (article) के माध्यम से आप लोग समझ गए होंगे कि “ब्लैक कैट कमांडो कैसे बने | Black Cat Commando Kaise Bane” जिसकी पुरी जानकारी इस लेख के माध्यम से देने का कोशिश किया हूं।

यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो आप  WhatsApp, Facebook के जरिये Share भी कर सकते हे ताकि और भी Students को जानकारी मिल पाए। आपके मन में कोई सवाल एवं सुझाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट कर के हमे पूछ सकते हैं, जल्द से जल्द आपके सवाल का जवाब देने का प्रयास करूंगा, धन्यवाद।

यह भी पढ़ें :-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *