join Telegram channel Join Now
join WhatsApp channel Join Now

जीएसटी में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye)

जीएसटी में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye) तो चलिए दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं कि आप 10वीं या 12वीं की परीक्षा के बाद “GST में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye)” और आप जीएसटी में काम करके कैसे ढेर सारा पैसे कमा सकते हैं तो दोस्तों इन सभी सवालों का जवाब जानने के लिए आप इस लेख (article) को पूरा पढ़ें।

दोस्तों बहुत सारे विद्यार्थियों के मन में यह सवाल रहता है कि वह 10वीं या 12वीं के परीक्षा के बाद कौन से जॉब कर सकते हैं? और कुछ विद्यार्थी कोई कोई जॉब करते भी है लेकिन आज के इस लेख में हम बात करने वाले हैं कि “जीएसटी में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye)”

तो चलिए दोस्तों जानते हैं कि जीएसटी में कौन-कौन से काम कर सकते हैं और कितना पैसा कमा सकते हैं जीएसटी में काम करके और साथ में यह भी जानेंगे कि जीएसटी में अपना काम कैसे आरंभ कर सकते हैं?

जीएसटी में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye)
जीएसटी में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye)

जीएसटी में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye)

दोस्तों आज हम जीएसटी से रिलेटेड बहुत सारे सवालों का जवाब जानने वाले हैं, जोकि बहुत ही महत्वपूर्ण है जीएसटी में कैरियर बनाने के लिए और जीएसटी में काम करने के लिए तो दोस्तों आज हम जिन जिन सवालों का जवाब जानने वाले हैं वह सब का लिस्ट निम्नलिखित है।

  • जीएसटी क्या है? ( What is GST )
  • जीएसटी के कोर्स में क्या क्या होते हैं?
  • जीएसटी कोर्स के फायदे
  • जीएसटी के कोर्स को कौन-कौन कर सकते हैं?
  • भारत में उपलब्ध जीएसटी कोर्स क्या क्या है? (What are the GST courses available in India)
  • जीएसटी कोर्स में कैरियर कैसे बनाएं (GST Course Me Career Kaise Banaye)
  • जीएसटी में काम करने के लिए क्या योग्यता चाहिए
  • जीएसटी का इतिहास क्या है? (What is History Of GST)

जीएसटी क्या है? (GST Kya Hai) | What is GST ?

जीएसटी एक प्रकार का अप्रत्यक्ष कर है जिसे भारत में 1 जुलाई 2017 को लागू किया गया था  GST का फुल फॉर्म Goods & Service Tax होता है जिसका हिंदी में मतलब वस्तु और सेवा कर होता है। वस्तु और सेवा कर (Goods & Service Tax) अधिनियम एक्ट द्वारा 29 मार्च  2017 को पारित किया गया, उसके बाद से अब तक GST ही भारत में चल रही है।

जीएसटी में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye)
जीएसटी में करियर कैसे बनाएं (GST Mein Career Kaise Banaye)

Goods and Services Tax Portal

जीएसटी के कोर्स में क्या क्या होते हैं?

जीएसटी के कोर्स के बारे में जीएसटी के तहत Goods & Service Tax पर Practical Ospact को शामिल किया जाता है, जिसमें GST Transactions का Registration, Return, In Depth Accounting, और Recording से संबंधित सभी कार्य होते हैं। 

आप चाहे तो जीएसटी का काम टैली सीख कर भी कर सकते हैं, लेकिन इसमें जीएसटी का पूरी जानकारी आपको नहीं मिल पाएगी यदि आपको पूरी जानकारी चाहिए तो आपको जीएसटी का कोर्स करना पड़ेगा।

जीएसटी कोर्स के फायदे (Benefit of GST Course)

जीएसटी कोर्स के फायदे बहुत सारे हैं जिसमे मौजूदा चुनौतियों की काफी अच्छी जानकारियां मिलती हैं। इस कोर्स को करने के दौरान तथा इसके बाद में जीएसटी के संबंध में आपके सारे dout क्लियर हो जाते हैं। जीएसटी के कोर्स में Case Studies & Examples के जरिए पहले ही आने वाली चुनौतियों के अनुभव हो जाता हैं।

जीएसटी के कोर्स करने पर Industries Recognitions Certificate मिलता है, जो की ब्रांडिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

सभी लोगों के मन में सवाल होता है कि जीएसटी के कोर्स करने के क्या फायदे हैं? (GST Ke Course Ko Karne Ke Kya Fayde Hai) आप लोगों को पता है तुम कि इस कोर्स को करने के बाद आप लोगों को जीएसटी के बारे में अच्छी तरह से नॉलेज प्राप्त हो जाएगा। 

चलिए दोस्तों अब हम बात करते हैं कि जीएसटी कोर्स कितने दिनों का होता है और जीएसटी के कोर्स को कौन कौन कर सकता है।

जीएसटी के कोर्स को कौन-कौन कर सकते हैं?

10वीं के बाद चाहे किसी भी स्ट्रीम से हो, चाहे साइंस हो कॉमर्स हो अथवा आर्ट्स हो सभी कोई जीएसटी के कोर्स को कर सकते हैं लेकिन जीएसटी एकाउंटिंग से रिलेटेड होते हैं इसीलिए कॉमर्स वाले के लिए जीएसटी ज्यादा बेहतर होता है।

इस जीएसटी के कोर्स को निम्नलिखित लोग कर सकते हैं जैसे कि :-

  • ग्रेजुएशन पास वाले कर सकते हैं,
  • बैंकिंग स्टैटिक्स (Banking, Statistics) के लोग,
  • फाइनेंशियल मार्केट्स एंड बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (Financial Markets and Business Administration) के लोग,
  • कंपनी के सेक्रेट्रीज (Company Secretaries) कर सकते हैं ये कोर्स,
  • चार्टर्ड अकाउंट (CA) भी यह कोर्स कर सकते हैं।

Tax & Accounting Professional Constancy Course कर सकते हैं, Professional Accounting कर सकते हैं जो कि अपनी कंपनी को सुचारू रूप से चलाने के लिए GST में महारथ हासिल करना चाहते हैं।

ऐसे प्रोफेशनल लग सकते हैं Finance and Taxation के क्षेत्र में संबंधित काम करना चाहते हैं Taxation से संबंधित कार्य को Beginners भी कर सकते हैं, 

भारत में उपलब्ध जीएसटी कोर्स क्या क्या है? (What are the GST courses available in India)

भारत में उपलब्ध जीएसटी कोर्स Ministry Of Skill Development and Entrepreneurship भारत सरकार द्वारा अप्रूव जीएसटी सेंटर में Students और विभिन्न पेशेवर जीएसटी के बारे में समस्त जानकारी ले सकते हैं।

यहां Students को A Professional ई लर्निंग (E-learning) जीएसटी(GST) की डायरेक्ट ट्रेनिंग On Campus Training Program Corporate Workshop National or International Certificate दिए जाते हैं।

भारत में उपलब्ध जीएसटी कोर्स :- 

GST BEGINNERS COURSE (GST-01)

ये Course 12वीं के बाद Diploma Course कर सकते हैं इस कोर्स की अवधि 24 घंटे से 40 घंटे का होता है। अगर इस कोर्स की Fees की बात किया जाए तो ₹4000 होते हैं। इस कोर्स में जीएसटी के बेसिक जानकारी दी जाती है। इस कोर्स को करने के बाद जीएसटी सर्टिफिकेट या डिप्लोमा सर्टिफिकेट दी जाती है।

GST INTERMEDIATE COURSE (GST-02)

BEGINNERS COURSE (GST-01) इस कोर्स को करने के बाद GST INTERMEDIATE COURSE (GST-02) को कर सकते हैं आसानी से इस कोर्स के तहत जीएसटी के प्रैक्टिकल(Practical) जानकारी दी जाती है। 

इस कोर्स(Course) की अवधी(Time) की बात किया जाए तो 36 घंटे से लेकर 60 घंटे तक का होता है। ये Course Accountant और Manager के लिए भी बहुत बढ़िया है इस कोर्स की Fees कि बात किया जाए तो ई लर्निंग में ₹6000 है।

GST TALLY ERP9/PRIME (GST-03)

यह कोर्स 10वीं एवं 12वीं के बाद कर सकते हैं, जो लोग Mathematical Computation सीखना चाहते हैं। वह लोग कर सकते हैं इस कोर्स की फीस (Fees) ई लर्निंग में ₹3000 होते हैं। इस कोर्स को करने के लिए ट्रेनिंग की बात किया जाए तो 18 से लेकर 30 घंटे तक का होता है।

GST EXPERT LEVEL (GST-04)

यह कोर्स सामान्य योग्यताओं वाले 12वीं के बाद कर सकते हैं इस कोर्स का ट्रेनिंग 72 से 120 घंटे का होता है। इस कोर्स(Course) को करने के बाद Higher GST Diploma Course भी कर सकते हैं, ई लर्निंग में इस कोर्स की फीस(Fees) ₹12000 होते हैं।

GST BUSINESS MANAGEMENT (GST-05)

यह भी कोर्स 12वीं पास करने के बाद कर सकते हैं, इस कोर्स में जीएसटी और मैनेजमेंट से संबंधित जानकारियां दी जाती है। इस कोर्स को करने के लिए भी ई लर्निंग या स्टडी मटेरियल मिल जाते हैं जिस की फीस (Fees)  ₹7500 होते हैं इस कोर्स की ट्रेनिंग अवधि 36 घंटे से लेकर 60 घंटे तक का होता है।

इन कोर्सों के अलावा भी ओर अलग है Certificate Course भी कर सकते हैं जैसे कि Institute of Chartered Accountants of India (ICAI) चलिए इस कोर्स के बारे में भी कुछ बेसिक जानकारी प्राप्त कर लेते हैं। यह जो कोर्स है भारत के कठिन परीक्षाओं में से एक है‌। इस कोर्स को पास करने के बाद चार्टर्ड अकाउंटेंट(CA) ऑफिसर(Officer) बनते हैं। 

जो कि अक्सर लोग यह सवाल करते हैं कि सीए कैसे बनें(CA Kaise Bane) यानी कि Charter Accountant Kaise Bane आपलोगों को बता दूं कि चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए इस Exam Institute of Chartered Accountants of India (ICAI) को पास करने होते हैं, तभी जाकर से सीए(C.A.) बनते हैं।

जीएसटी कोर्स में कैरियर कैसे बनाएं (GST Course Me Career Kaise Banaye) 

अक्सर लोगों के मन में यह सवाल होते हैं कि जीएसटी कोर्स में कैरियर कैसे बनाएं (GST Course Me Career Kaise Banaye) तो आप लोगों को बता दूं कि भारत सरकार के द्वार करा रहे हैं एक 100 घंटे के कोर्स जो कि आप लोग जीएसटी में कैरियर बना सकते हैं।

जीएसटी में काम करने के लिए क्या योग्यता चाहिए

दोस्तों जीएसटी में काम करने के लिए बहुत सारे ऑप्शंस है यदि आप जीएसटी में सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो आपकी योग्यता स्नातक या स्नातक से ऊपर का चाहिए प्लस में जीएसटी का कोर्स पूरी तरह से किया हुआ होना चाहिए और यदि आप जीएसटी का काम किसी प्राइवेट सेक्टर में करना चाहते हैं तो आप 12वीं के बाद काम कर सकते हैं।

जीएसटी का इतिहास क्या है? (What is History Of GST)

चलिए अब हम लोग जानेंगे कि जीएसटी का इतिहास क्या है? (What is History Of GST) आप लोगों को बता दूं कि जीएसटी सबसे पहले वर्ष 2003 में प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की जब सरकार थी तब Tax को सुधार करने के लिए आगे बढ़ते हुए जीएसटी के लिए एक समिति का गठन किया था जिसका नाम केलकर समिति था।

कुछ वजह के कारण इसे लागू नहीं किया गया इसके बाद जब कांग्रेस पार्टी की UPA सरकार ने वर्ष 2006 में जीएसटी को सदन में पास करवाने के लिए रेखांकित किए गए। लेकिन वर्ष 2011 में जब जीएसटी को सदन में प्रस्तुत किया गया। विधायक संसद में आगे बढ़ने से रोक दिया गया।

इस घटना के बाद जब भारतीय जनता पार्टी के NDA सरकार नरेंद्र मोदी ने इस प्रस्ताव को पास करने के लिए काफी सारी परेशानियों का सामना करते हुए जीएसटी को पास कर दिया गया और जीएसटी को 1 जुलाई 2017 से लागू कर दिया गया।

क्या आप जानते हैं?

12 वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची

12वीं के बाद डॉक्टर कैसे बने?

गणित (Math) में कौन कौन सी जॉब होती है?

12वीं के बाद डीएसपी कैसे बनें 

दोस्तों इस लेख के अंतिम में आप लोगों को बताना चाहूंगा कि अगर आपलोग 10वीं पास या 12वीं पास कर चुके हैं तो जीएसटी जल्दी से सीख लें ताकि आप पार्ट टाइम जॉब कर सके पढ़ाई के साथ क्योंकि दोस्तों आपलोगों को बता दूं कि आज के समय पर जीएसटी का मांग बहुत ही ज्यादा है।

चाहे कोई भी बिजनेस हो अगर आपलोग किसी भी कोर्स कर लेते हैं कंप्यूटर के जिसमें जीएसटी के बारे में जानकारी दी जाती है तो मैं यकीन के साथ कह सकता हूं कि उनके लिए जॉब आज के समय पर आराम से मिल जाएगी।

आज का यह लेख आप लोगों को कैसा लगा कमेंट जरूर बताएं अगर इस लेख से संबंधित आप लोगों के मन में कोई भी सवाल या सुझाव हो तो हमें पूछ सकते हैं जल्द से जल्द इसका जवाब देने का कोशिश करूंगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *