IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है | IAS ki taiyari mein Kitna kharch aata hai -

IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है | IAS ki taiyari mein Kitna kharch aata hai

IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है? (IAS ki taiyari mein Kitna kharch aata hai) आज के इस लेख के माध्यम से हम जाने वाले हैं और साथ ही आईएएस एग्जाम से संबंधित कई सारे सवालों का जवाब भी जानेंगे।

आईएएस की परीक्षा की बात की जाए तो यह परीक्षा सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक मानी जाती है इस परीक्षा की तैयारी छात्र बहुत पहले से करना शुरू कर देते हैं।

जब भी कोई छात्र आईएएस की तैयारी करता है तो उसके बहुत सारे पैसे खर्च होते हैं तो आज के इस लेख में हम इसी बारे में बात करेंगे कि IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है? (IAS ki taiyari mein Kitna kharch aata hai)।

IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है | IAS कौन बन सकता है | IAS क्या काम करता है
IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है | IAS कौन बन सकता है | IAS क्या काम करता है

ऐसे तो आईएएस की तैयारी में सिर्फ कोचिंग करने में ही खर्च होती है और किताब तथा कॉपी खरीदने में खर्च होती है इसके अलावा दूसरा कोई भी खर्च नहीं होता है।

आईएएस की तैयारी में कहा जाए तो वैसे ज्यादा खर्च नहीं होता है लेकिन आपको बहुत मेहनत करके पढ़ाई करनी होती है यदि आप मेहनत नहीं करते हैं तो आईएएस एग्जाम निकालना आपके लिए कठिन हो सकता है।

यदि आप मेहनत और लगन से आईएएस की तैयारी करते हैं और फिजूलखर्ची नहीं करते हैं तो मैं दावे से कह सकता हूं कि अब आई एस का एग्जाम को आसानी से निकाल सकेंगे और खर्च भी बहुत कम होगा।

तो चलिए अब हम यह जानते हैं कि  IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है? (IAS ki taiyari mein Kitna kharch aata hai) तो आप इस लेख को पूरा अंत तक पढ़े ताकि आपको इसके बारे में सटीक जानकारी मिल पाए।

IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है | IAS ki taiyari mein Kitna kharch aata hai

आईएएस की तैयारी करने में खर्च की बात की जाए तो लगभग कोचिंग सेंटर में 2000 से ₹3000 खर्च महीने में आपका होगा ईसके अलावा किताबें तथा नोटबुक खरीदने में थोड़ी बहुत खर्च आती है।

चलिए अब हम आगे पूरी डिटेल्स में जानते हैं कि आईएएस की तैयारी करने में किन-किन चीजों में खर्च होती है तथा लगभग कितना खर्च होती है।

सबसे पहली बात किया जाए तो आपको हर महीने मैगजीन और करंट अफेयर्स खरीदना पड़ता है जिसमें आप का खर्च लगभग ₹500 तक हो जाती है।

उसके बाद आईएएस की तैयारी करने में बहुत सारे किताबों को खरीदना पड़ता है उसमें लगभग ₹10000 खर्च होती है जो सिर्फ एक बार ही होती है उन किताबों को आपको बार-बार खरीदना नहीं पड़ता है।

अब सबसे मुख्य बात की आईएएस की तैयारी में कोचिंग करना पड़ता है जिसे आप ऑनलाइन ऑफलाइन भी कर सकते हैं जिसकी फीस लगभग ₹1000 से ₹5000 के बीच होती है।

इसके अलावा आईएएस की तैयारी में दूसरा कोई खर्च नहीं होता है लेकिन यदि आप घर से कहीं बाहर रहकर तैयारी करते हैं तो वहां रहने खाने-पीने का खर्च आपको उठाना पड़ता है।

यदि आप एक आईएएस ऑफिसर बनना चाहते हैं तो आप लगन और मेहनत से अपना पढ़ाई कीजिए और किसी भी फिजूल खर्च को कम कीजिए यदि आप मिडल क्लास फैमिली से है तो इन सभी चीजों पर ध्यान देना पड़ेगा तभी आप एक्सपेंड कर पाएंगे।

यदि आप लोग क्लास फैमिली से बिलॉन्ग करते हैं तो आप आईएएस की तैयारी कर सकते हैं लेकिन उसके लिए आपको पैसे बचाना पड़ेगा और पैसे बचाने के लिए आप सेकंड हैंड बुक खरीद सकते हैं और फिजूलखर्ची कम कर सकते हैं।

कोचिंग सेंटर में पढ़ाई करने के बाद आप खुद 8 से 10 घंटे दिन में मेहनत करके पढ़ाई कर सकते हैं और खुद से एक्सपेरिमेंट कर सकते हैं।

आईएएस के बारे में

आईएएस के बारे में बात किया जाए तो आईएएस का फुल फॉर्म Indian Administrative Service होता है जिसको हिंदी में भारतीय सिविल सेवा कहा जाता है।

आईएएस के बारे में आपको बता दें कि यह एक के ऐसे अधिकारी के पद होते हैं जो पूरे जिले को संभालते हैं क्योंकि पूरे जिले की देखरेख एक आईएएस ऑफिसर के अंतर्गत है आती है।

यदि आप एक आईएएस ऑफिसर बन जाते हैं तो आपको यह जानकर बहुत खुशी होगी कि एक आईएएस ऑफिसर की सैलरी ₹56,100 से ₹2,50,000 तक प्रतिमाह होती है

यहां सैलरी काफी अधिक होती है इसके अलावा भी एक आईएएस ऑफिसर को कई सारे अलावेंस दिए जाते हैं जैसे कि पेट्रोल खर्च रूम रेंट बिजली बिल इत्यादि।

यदि आप एक आईएएस की तैयारी कर रहे हैं तो आप पूरी मेहनत और लगन के साथ अपनी तैयारी को बरकरार रखें क्योंकि आईएएस का पद छोटा-मोटा पद नहीं होता है यह एक गौरवपूर्ण नौकरी होती है।

ऐसे नौकरी बहुत ही भाग्यशाली लोग करते हैं जिन्हें अपने देश की सेवा करने को मिलता है और आईएएस ऑफिसर भी वही काम करते हैं अपने देश की सेवा करते हैं अपने राज्य की सेवा करते हैं अपने शहर की सेवा करते हैं।

यह भी पढ़ें :-भारत में कितने आईएएस है 

IAS की ट्रेनिंग कितने साल की होती है?

आईएएस की ट्रेनिंग की बात की जाए तो इनकी ट्रेनिंग लगभग 2 वर्ष की होती है इन 2 वर्षों में इनको कई सारे प्रशिक्षण दिए जाते हैं और उसके बाद इन्हें अपने कार्य में किसी शहर में भेज दिया जाता है।

आपको बता दें कि आई एस की परीक्षा तथा इंटरव्यू पास करने के बाद ही इसे ट्रेनिंग में भेजा जाता है यदि परीक्षा में कोई फेल हो जाते हैं या इंटरव्यू में फेल हो जाते हैं तो वह ट्रेनिंग से अवगत नहीं हो पाते हैं।

यदि आप अभी आईएएस ऑफिसर बनना चाहते हैं तो आप अभी से उनकी तैयारी करना शुरू कर दें क्योंकि यह एग्जाम बहुत ही कठिन एग्जाम होता है उसमें कंपटीशन भी बहुत अधिक होती है।

यदि आप अभी से तैयारी शुरू कर देते हैं तो आप काफी जल्दी सफलता हासिल कर सकते हैं और आपके पास बहुत ज्यादा समय रहता है आईएएस की तैयारी करने के लिए जो की अक्सर विद्यार्थी यही गलती करते हैं।

कि वह इंटरमीडिएट की पढ़ाई करने के बाद में तैयारी करना शुरू करते हैं लेकिन ऐसा नहीं करना है अब इंटरमीडिएट के पहले से ही तैयारी शुरू कर दें या इंटरमीडिएट में है तभी से तैयारी शुरू कर दें ताकि आपके पास काफी ज्यादा समय रहे और आप अच्छे से तैयारी कर पाए।

यह भी पढ़ें :-12वीं के बाद आईपीएस कैसे बनें 

यूपीएससी का फॉर्म भरने में कितना पैसा लगता है?

आपको बता दें कि यूपीएससी का फॉर्म भरने के लिए ₹100 का शुल्क जमा करना होता है जिसमें sc-st तथा महिलाओं के लिए किसी भी प्रकार का शुल्क नहीं देना पड़ता है अर्थात वह सब फ्री में यूपीएससी का फॉर्म भर सकते हैं।

एससी एसटी और महिलाओं को छोड़कर सभी कैटेगरी वालों तथा पुरुषों के लिए यूपीएससी की फॉर्म शुल्क ₹100 होती है जिसे देना अनिवार्य होता है और ₹100 देने के बाद ही आपका फॉर्म या आपका आवेदन पूर्ण मानी जाती है।

अक्सर ऐसा होता है कि आप जब फॉर्म भरते हैं तो आपका ₹100 नहीं करता है और आप कैसे से घर आ जाते हैं अपना रिसिप्ट लेकर तो आपको बता दें कि आपको ऐसा नहीं करना है यदि आपका सो रुपया नहीं कटता है तो आपका आवेदन अपूर्ण माना जाता है।

और आप परीक्षा में बैठने से वंचित रह जाते हैं क्योंकि आपका आवेदन वहां पर सबमिट ही नहीं किया जाता है और बिना सबमिट किया हुआ आवेदन परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं देती है।

यह भी पढ़ें :-ANM की फीस कितनी है

हर साल कितने छात्र आईएएस परीक्षा देते हैं?

आईएएस परीक्षा की बात की जाए तो हर साल लगभग 10,00,000 उम्मीदवार आवेदन करते जिसमें प्रारंभिक परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवारों की संख्या लगभग 6,00,000 होती है।

आप यह सोच सकते हैं कि आईएएस के एग्जाम में कितने कंपटीशन होते हैं इसलिए यदि आप अच्छे से तैयारी नहीं किए हुए होते हैं तो यह परीक्षा में फेल होने के चांसेस बहुत अधिक होती है।

इसलिए आप मेहनत और लगन से अपने आईएएस की तैयारी को पूरी करें और फिजूलखर्ची कम करें ताकि आप आगे समय तक एक्सपेंड कर सकें।

यह भी पढ़ें :-12वीं के बाद डीएसपी कैसे बने

IAS कौन बन सकता है?

आईएएस वह व्यक्ति बन सकता है जो भारत की मूल निवासी हैं तथा जिनकी योग्यता स्नातक है या उसके पास किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन की डिग्री ली हुई है।

इसके अलावा भी यदि कोई ग्रेजुएशन फाइनल ईयर में है तो वह भी आईएएस के एग्जाम में भाग ले सकते हैं और एग्जाम दे सकते हैं।

आईएएस बनाने के लिए एग्जाम के तीन चरणों से गुजरना पड़ता है पहला प्रिलिमनरी एक्जाम होता है तथा दूसरा मेन एग्जाम तथा तीसरा इंटरव्यू होता है।

तीनों चरणों को पास करने के बाद ही आप एक आईएएस ऑफिसर बन सकते हैं आपको बता दें कि प्रिलिमनरी एग्जाम में पास होने के बाद ही आप मैंने एग्जाम में शामिल हो सकते हैं।

तथा इंटरव्यू में शामिल होने के लिए आपको पहले दोनों एग्जाम को पास करना होता है उसके बाद ही आप इंटरव्यू में शामिल हो सकते हैं और इंटरव्यू क्लियर होने के बाद आपको ट्रेनिंग के लिए भेज दिया जाता है।

यह भी पढ़ें :-पैरा कमांडो क्या है 

IAS क्या काम करता है?

आईएएस के काम के बारे में बात किया जाए तो एक आईएएस का काम डिस्ट्रिक्ट लेबर का काम होता है अर्थात किसी भी जिले को सुचारू रूप से चलाने के लिए पूरी जिम्मेदारी आईएएस ऑफिसर के ऊपर होती है।

एक आईएएस ऑफिसर को उप सचिव और अवर सचिव के रूप में भी कार्य करना पड़ता है तथा राज्यों से संबंधित कार्य को भी एक आईएएस ऑफिसर ही करते हैं।

कानूनी तौर पर जितना भी कार्य होते हैं सभी कार्य को आईएएस ऑफिसर के द्वारा ही किया जाता है क्योंकि किसी भी शहर की पूरी जिम्मेदारी एक आईएएस ऑफिसर ही संभालती है।

यह भी पढ़ें :-पुलिस की सैलरी कितनी होती है?

आईएएस की ट्रेनिंग कहाँ होती है?

आईएएस की ट्रेनिंग लाल बहादुर शास्त्री नेशनल अकैडमी आफ एडमिनिस्ट्रेशन में होती है जो कि मसूरी में स्थित है तथा उसमें आईएएस के अलावा भी आईपीएस और आईआरएस के कैंडिडेट भी शामिल होते हैं।

आपको बता दें कि आईएएस की ट्रेनिंग करने से पहले आपको कई सारे चरणों से गुजरना पड़ता है और सभी चरणों में पास होने के बाद ही आपको ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है।

यदि आप किसी भी चरण में फेल होते हैं तो आप वहीं से वापस लौट जाते हैं अर्थात आगे का कोई भी काम आपका नहीं हो पाता है और यदि आप पास होते हैं तब आपको ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता

इसके लिए सबसे पहले प्रिलिमनरी एग्जाम देना होता है उसको पास करने के बाद मेंस एग्जाम देना होता है और इन दोनों को पास करने के बाद आप का साक्षात्कार अर्थात इंटरव्यू होता है।

इंटरव्यू पास करने के बाद ही आपको ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है और इंटरव्यू पास करने के बाद आप एक आईएएस ऑफिसर बन जाते हैं ट्रेनिंग के समय भी आपकी सैलरी आरंभ हो जाती है।

यह भी पढ़ें :-चौकीदार का वेतन कितना है 

भारत का पहला आईएएस कौन है?

भारत का पहला आईएएस ऑफिसर सत्येंद्र नाथ टैगोर थे जो कि 30 वर्ष की आयु में अपनी परीक्षा को क्लियर करके एक आईएएस ऑफिसर बना था आपको बता दें कि सत्येंद्र नाथ टैगोर रविंद्र नाथ टैगोर के भाई थे।

अभी के समय में आईएएस ऑफिसर बनाना बहुत कठिन मुद्दा है अर्थात यदि आप मेहनत और लगन से अपनी पढ़ाई करते हैं तो आप एक आईएएस ऑफिसर बन सकते हैं।

लेकिन यदि आप चाहते हैं कि ऐसे ही हम पढ़ाई करके एक आईएएस ऑफिसर बन जाए तो यह आपका भ्रम है आईएएस ऑफिसर बनने के लिए बहुत मेहनत और लगन की आवश्यकता होती है।

मेहनत और लगन के साथ-साथ आपको धैर्य भी रखना पड़ता है क्योंकि आईएएस ऑफिसर वही बन सकते हैं जिसके पास यह तीनों चीजें हो मेहनत लगन और धैर्य।

जरुर पढ़ें :-बीएसएफ की सैलेरी कितनी है?

CONCLUSION :- IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है

आज के इस लेख के माध्यम से हमने जाना कि IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है? (IAS ki taiyari mein Kitna kharch aata hai) क्या-क्या है और साथ ही लोगों द्वारा पूछे गए कुछ सवालों के जवाब भी जाना।

हमको उम्मीद है कि आज का यह लेख “IAS की तैयारी में कितना खर्च आता है? (IAS ki taiyari mein Kitna kharch aata hai) ” आपको काफी अच्छा लगा होगा।

IAS से संबंधित सभी प्रकार के सवालों का जवाब आज हम इस लेख के माध्यम से समझ गए हैं तथा लोगों द्वारा पूछे गए सभी सवालों का जवाब भी आज हम जाने।

इसके अलावा भी आपके मन में किसी प्रकार का सवाल है तो आप कमेंट कर सकते हैं आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द दिया जायेगा।

यह भी पढ़ें :-

Leave a Comment