join Telegram channel Join Now
join WhatsApp channel Join Now

एनटीटी कोर्स के फायदे | NTT course ke fayde

एनटीटी कोर्स के फायदे (NTT course ke fayde) क्या-क्या है चलिए आज के इस लेख के माध्यम से हम जानते हैं और साथ ही एनटीटी कोर्स से संबंधित कई सारे सवालों के जवाब हम जानते हैं जो कि काफी सारे लोगों द्वारा पूछा गया है।

एनटीटी कोर्स के बारे में बता दें कि यह 2 वर्ष का एक डिप्लोमा कोर्स होता है जिसे आप 12वीं कक्षा पास करने के बाद कर सकते हैं।

यदि आप 12वीं पास हैं और आपका उम्र 18 वर्ष से 35 वर्ष है तो आप आसानी से इस कोर्स को कर सकते हैं, लेकिन यदि आपका उम्र 18 वर्ष से नीचे अथवा 35 वर्ष से ऊपर है तो आप इस कोर्स को करने से वंचित रह जाएंगे।

यदि आपका उम्र 18 वर्ष से कम है तो आपको 18 वर्ष तक इंतजार करना है और जैसे ही आपका 18 वर्ष पूरा हो जाएगा आप एनटीटी कोर्स में अप्लाई कर सकते हैं।

एनटीटी कोर्स के फायदे | प्राइवेट स्कूल में टीचर कैसे बने?
एनटीटी कोर्स के फायदे | प्राइवेट स्कूल में टीचर कैसे बने?

काफी सारे बच्चे 12वीं कक्षा में पढ़ रहे हैं अथवा 12वीं कक्षा पास कर चुके हैं, और वह सब एनटीटी कोर्स को करना चाहते हैं।

तो उन बच्चों को बता दें कि एनटीटी कोर्स करने के बाद आप नर्सरी क्लास के बच्चों को पढ़ा सकते हैं और इस कोर्स को करने के बाद आपको आसानी से प्राइवेट या सरकारी स्कूल में टीचर की नौकरी मिल जाएगी।

लेकिन काफी सारे बच्चों का यह सवाल है कि एनटीटी कोर्स के फायदे (NTT course ke fayde) क्या-क्या है तो चलिए आज कैसेट के माध्यम से हम जानते हैं।

आप इस लेख को पूरा अंत तक पढ़ा था कि आपको एनटीटी कोर्स के फायदे के बारे में सब कुछ अच्छे से समझ में आ जाए और आपको किसी भी प्रकार की कोई भी चीज समझने में दिक्कत ना हो।

एनटीटी कोर्स के फायदे | NTT course ke fayde

एनटीटी कोर्स की बात की जाए तो एनटीटी का फुल फॉर्म नर्सरी टीचर ट्रेनिंग होता है जिसे 2 वर्ष में पूरा कराया जाता है जिसे करने के बाद आप आसानी से नर्सरी क्लास के बच्चों को पढ़ा सकते हैं।

इस कोर्स को करने के बाद आप आसानी से प्राइवेट या सरकारी टीचर बन सकते हैं या प्राइवेट या सरकारी स्कूल में बच्चों को पढ़ा सकते हैं।

आपको बता दें कि एनटीटी कोर्स को करने के बाद आप अपना एक प्री प्राइमरी स्कूल भी खोल सकते हैं और इनकम जनरेट कर सकते हैं।

काफी सारे लोग इस कोर्स को इसलिए करते हैं ताकि वह आंगनबाड़ी में जॉब कर सके तो आपको जानकर खुशी होगी कि इस कोर्स को करने के बाद आप आसानी से आंगनवाड़ी में जॉब कर सकते हैं।

यह एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स होता है जिसमें नर्सरी क्लास के बच्चों को पढ़ाने के लिए काफी सारे इसके इसके बारे में बताया जाता है और अभ्यर्थी को ट्रेंड किया जाता है।

यह कोर्स एक प्रकार का ट्रेनिंग कोर्स होता है जिसमें अभ्यर्थी को इस बात का ट्रेनिंग दिया जाता है कि वह बच्चे को कैसे हैंडल करें तथा बच्चे को कैसे शिक्षा प्रदान करें।

एनटीटी कोर्स को करने के बहुत सारे फायदे हैं इस कोर्स को आप 12वीं पास करने के बाद कर सकते हैं और आपका उम्र 18 वर्ष से 35 वर्ष के बीच है तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं।

काफी सारे लोगों द्वारा यह पूछा गया था कि 12वीं में कौन सी स्ट्रीम से पढ़ाई करें ताकि हम एनटीटी कोर्स को कर सके तो उनके लिए हम बता दें कि 12वीं में आप किसी भी स्ट्रीम से पढ़ाई करें इससे कोई दिक्कत नहीं है।

किसी भी स्ट्रीम से आप 12वीं पास कर ले तो आप इस कोर्स को आसानी से कर पाएंगे इस कोर्स को करने के लिए 12 वीं पास होना जरूरी है तथा उम्र 18 वर्ष से 35 वर्ष होना जरूरी है।

ऊपर हमने एनटीटी कोर्स को करने के बाद उस से होने वाले फायदे के बारे में बात किया की एनटीटी कोर्स को करने के बाद हमें कौन-कौन से फायदे होने वाले हैं।

एनटीटी कोर्स को करने के बाद हम किस किस क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं या एनटीटी कोर्स को करने के बाद हम क्या क्या कर सकते हैं इन सभी के बारे में ऊपर बारीकी से बताया गया है।

चलिए अब हम काफी सारे लोगों द्वारा पूछा गया सवाल जो कि एनटीटी की सैलरी कितनी होती है के बारे में जानते हैं और भी काफी सारे सवालों का जवाब हम नीचे जानते हैं तो आप इस लेख को पूरा अंत तक पढ़े।

यह भी पढ़ें :-NTT कोर्स क्या है?

एनटीटी की सैलरी कितनी होती है?

एनटीटी की सैलरी की बात की जाए तो एनटीटी कोर्स को करने के बाद आप नर्सरी क्लास के बच्चे को पढ़ा सकते हैं तथा उसकी सैलरी लगभग ₹8000 से ₹25000 तक होती है।

हर जगह इसकी सैलरी अलग-अलग होती है यदि आप प्राइवेट सेक्टर पर जॉब करते हैं तो आपकी सैलरी थोड़ी कम होती है लेकिन जल्दी आप सरकारी सेक्टर में जॉब करते हैं तो वहां पर आपके सेलरी थोड़ी अधिक होती है।

कई सारे जगहों पर एनटीटी कोर्स करने के बाद आपको जॉब मिल जाते हैं और बहुत सारे जगहों पर आपकी सैलरी ₹10000 से ₹12000 तक होती है जो की फिक्स सैलरी होती है।

लेकिन सरकारी सेक्टर में इसकी सैलरी काफी अधिक होती है जो कि आपको लगभग ₹15000 से ₹25000 तक मिल सकती है।

लेकिन सरकारी सेक्टर में जॉब पाना थोड़ी मुश्किल होती है और प्राइवेट सेक्टर में आपको आसानी से जॉब मिल जाती है।

जरुर पढ़ें :- 12वीं के बाद शिक्षक (Teacher) कैसे बने?

एनटीटी के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

यदि आप एनटीटी कोर्स को करना चाहते हैं तो आपका कम से कम 12 वीं पास होना जरूरी है क्योंकि एनटीटी कोर्स एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स होता है जो 2 साल की अवधि में कंप्लीट कराई जाती है।

यदि आप 12वीं पास नहीं है तो आप इस कोर्स को नहीं कर सकते हैं क्योंकि इस कोर्स को करने के लिए कम से कम योग्यता या आप कहे तो न्यूनतम योग्यता 12वीं पास होती है।

बहुत सारे छात्रों का यह भी सवाल था कि 12 में कौन सा स्ट्रीम से पढ़ाई करना चाहिए जिसके बाद हम एनटीटी कोर्स को कर सकते हैं।

तो उन लोगों के लिए बता दें कि 12वीं में कोई भी स्ट्रीम से पढ़ाई कर सकते हैं उसके बाद आप एंटिटी में एडमिशन ले सकते हैं।

एनटीटी कोर्स को करने के बाद आप कहीं भी प्राइवेट सेक्टर या सरकार सेक्टर में जॉब कर सकते हैं क्योंकि एनटीटी कोर्स एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स होता है और इस सर्टिफिकेट को देखकर आपको कहीं भी आसानी से जॉब मिल सकती है।

यह भी पढ़ें :-एनटीटी कोर्स की योग्यता

नर्सरी टीचर ट्रेनिंग में क्या होता है?

नर्सरी टीचर ट्रेनिंग एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स होता है जिसमें नर्सरी क्लास के बच्चों को पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग दिया जाता है और उन्हें बताया जाता है कि नर्सरी क्लास के बच्चों को किस तरह पढ़ाना है तथा शिक्षा प्रदान करना है।

यह कोर्स को 2 वर्ष में पूरा किया जाता है जिसे करने के लिए आवेदक का 12 वीं पास होना जरूरी होता है क्योंकि इसमें न्यूनतम योग्यता 12वीं पास के बाद ही आप कर सकते हैं।

2 वर्ष तक इस कोर्स में ट्रेनिंग ही होती है और कुछ बताया भी जाता है कुछ स्किल्स के बारे में बताया जाता है जिसे आप बच्चे को आसानी से पढ़ा सकेंगे और हैंडल कर पाएंगे।

इसमें आपको नर्सरी क्लास से पांचवी छठी क्लास तक बच्चे को पढ़ाने का ट्रेनिंग दिया जाता है अर्थात आप नर्सरी से लेकर पांचवी तक की क्लास तक के बच्चों को इस कोर्स को करने के बाद पढ़ा सकते हैं।

इस कोर्स को करने के बाद आपको एक डिप्लोमा सर्टिफिकेट दिया जाता है जिससे यह साबित होता है कि अब बच्चे को पढ़ाने के काबिल है और वह सर्टिफिकेट के बेस पर आपको कहीं भी आसानी से जॉब मिल सकती है।

जरुर पढ़ें :-गणित में कौन कौन सी जॉब होती है?

एनटीटी करने के बाद क्या करें?

एनटीटी कोर्स को करने के बाद आप कहीं भी सरकारी या प्राइवेट स्कूलों में जॉब कर सकते हैं क्योंकि एंटिटी सर्टिफिकेट के पेज पर आपको कहीं भी आसानी से जॉब मिल जाएगी।

आप चाहे तो इस कोर्स को करने के बाद अपना एक प्री प्राइमरी स्कूल भी खोल सकते हैं और बच्चे पढ़ा सकते हैं क्योंकि इस कोर्स को करने के बाद आपको एक सर्टिफिकेट मिलता है जिससे आप इस स्कूल को खोल सकते हैं।

एनटीटी कोर्स का बात करें तो यह शिक्षक पात्रता के लिए बहुत ही कम फीस में इस कोर्स को कराया जाता है और बहुत सारे लोग इस कोर्स को करते हैं तथा नर्सरी क्लास के बच्चों को पढ़ाने के लिए एलिजिबल होते हैं।

यदि आप अभी एनटीटी कोर्स को कर लिए हैं या करने वाले हैं तो आप जरूर इस कोर्स को कर लेना क्योंकि इस कोर्स को करने के बाद आंगनबाड़ी में भी आप जॉब कर सकते हैं।

जरुर पढ़ें :-कॉमर्स में कौन-कौन सी जॉब होती है?

टीचर की नौकरी कितने साल की होती है?

टीचर की नौकरी की बात की जाए तो जब तक कैंडिडेट का 60 वर्ष पूरा नहीं होता है तब तक वह नौकरी कर सकता है यदि उसकी नौकरी सरकारी है तो।

प्राइवेट संस्थानों में टीचर की अवधी की बात की जाए तो यह कोई निश्चित नहीं होती है प्राइवेट संस्थानों में 60 वर्ष से अधिक होने के बाद भी आप जॉब कर सकते हैं।

यदि आप एक सरकारी टीचर बन जाते हैं तो टीचर बनने के बाद आप तब तक पढ़ा सकते हैं जब तक आपकी उम्र 60 वर्ष ना हो जाए और 7 वर्ष होने के बाद आप को रिटायरमेंट दिया जाता है।

इस बीच में ही अपनों को छोड़ना चाहे तो आप छोड़ सकते हैं और यदि किसी भी प्रकार की गलती आप करते हैं तो आपको नौकरी से निकाला भी जा सकता है।

जरुर पढ़ें :-साइंस में कौन-कौन सी जॉब होती है? 

एनटीटी कोर्स करने के लिए कितनी उम्र होनी चाहिए?

एनटीटी कोर्स को आप ट्वेल्थ के बाद कर सकते हैं और एनटीटी कोर्स को करने के लिए आपकी उम्र कम से कम 18 वर्ष और अधिक से अधिक 35 वर्ष होनी चाहिए।

यदि आप की उम्र 18 वर्ष से नीचे है तो आप एनटीटी कोर्स को नहीं कर सकते हैं क्योंकि इसकी मिनिमम आयु 18 वर्ष होती है और ट्वेल्थ पास करते करते हर किसी की उम्र अट्ठारह हो ही जाती है अर्थात आप इस कोर्स को 18 वर्ष में कर सकते हैं।

लेकिन ध्यान रखने वाली बात यह है कि आपकी उम्र 35 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए क्योंकि 35 वर्ष से अधिक होने पर आप इस कोर्स को नहीं कर सकते हैं।

क्योंकि 35 वर्ष मैक्सिमम आयु होती है और एक व्यक्ति का 35 वर्ष हो जाना बहुत ज्यादा उम्र होता है इसलिए इसकी अंतिम आयु 35 वर्ष की हुई है अर्थात आप 35 वर्ष तक इस कोर्स को कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें :-पीएचडी कितने साल की होती है

प्राइवेट स्कूल में टीचर कैसे बने?

प्राइवेट स्कूल में टीचर बनने के लिए आपको ट्वेल्थ पास करने के बाद अपना ग्रेजुएशन कंप्लीट कर लेना है आप किसी भी स्ट्रीम से अपना ट्वेल्थ या ग्रैजुएशन कंप्लीट कर सकते हैं।

जब आपका ग्रेजुएशन कंप्लीट हो जाता है तो आप b.Ed कोर्स को कर सकते हैं जो 2 वर्ष का कोर्स होता है और एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स माना जाता है।

B.Ed कोर्स को करने के बाद आप आसानी से प्राइवेट स्कूल में टीचर बन सकते हैं और बच्चे को पढ़ा सकते हैं

यदि आप चाहते हैं कि 12वीं के बाद ही हम स्कूल में टीचर बने तो आप एनटीटी कोर्स को कर सकते हैं एनटीटी कोर्स भी एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स होता है।

एनटीटी कोर्स का मतलब नर्सरी टीचर ट्रेनिंग होता है अर्थात आपको नर्सरी क्लास के बच्चों को पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग दी जाती है जिसकी अवधि 2 वर्ष की होती है।

यदि आप प्राइवेट टीचर बनना चाहते हैं तो अब एनटीटी कोर्स को कर सकते हैं और यदि आपके पास समय है तो आप b.Ed कोर्स को कर सकते हैं।

आपके लिए अच्छा b.Ed कोर्स ही रहेगा क्योंकि b.Ed कोर्स को करने के बाद आप किसी भी क्लास के बच्चे को पढ़ा सकते हैं लेकिन एनटीटी कोर्स को करने के बाद आप नर्सरी क्लास से फाइव क्लास तक के बच्चों को ही पड़ा पाएंगे।

यह भी पढ़ें :-बीए में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं 

CONCLUSION :- प्राइवेट स्कूल में टीचर कैसे बने?

आज के इस लेख के माध्यम से हमने जाना कि एनटीटी कोर्स के फायदे (NTT course ke fayde) क्या क्या हैं और साथ ही लोगों द्वारा पूछे गए कुछ सवालों के जवाब भी जाना।

हमको उम्मीद है कि आज का यह लेख “एनटीटी कोर्स के फायदे (NTT course ke fayde)” आपको काफी अच्छा लगा होगा।

NTT से संबंधित सभी प्रकार के सवालों का जवाब आज हम इस लेख के माध्यम से समझ गए हैं तथा लोगों द्वारा पूछे गए सभी सवालों का जवाब भी आज हम जाने।

इसके अलावा भी आपके मन में किसी प्रकार का सवाल है तो आप कमेंट कर सकते हैं आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द दिया जायेगा।

यह भी पढ़ें :-

2 thoughts on “एनटीटी कोर्स के फायदे | NTT course ke fayde”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *