साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? | Science subject list in hindi

साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? (science mein kaun kaun se subject Hote Hain) (Science subject list in hindi) आज के इस लेख के माध्यम से हम जाने वाले हैं और साथ ही साइंस से संबंधित कई सारे सवालों का जवाब भी आज हम जानेंगे जो बहुत सारे लोगों द्वारा पूछा गया है। 

आजकल के दौर में अधिकतर छात्र साइंस में अपना करियर बनाना चाहते हैं और साइंस की पढ़ाई करना चाहते हैं बहुत सारे छात्र वैज्ञानिक बनना चाहते हैं जिसके लिए साइंस की पढ़ाई बहुत ही जरूरी होती है। 

साइंस के बारे में बात किया जाए तो आपको बता दें कि साइंस एक ऐसा स्ट्रीम है जो सबसे ज्यादा पॉपुलर और सबसे ज्यादा छात्रों द्वारा लिया जाने वाला स्ट्रीम है जिसकी पढ़ाई अधिक से अधिक छात्र करते हैं और साइंस में अपना करियर बनाते हैं। 

आज का यह लेख उन लोगों के लिए है जो साइंस के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं और यह जानना चाहते हैं कि साइंस में क्या-क्या बन सकते हैं और साथ ही उनके सवाल जोकि साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? (science mein kaun kaun se subject Hote Hain) (Science subject list in hindi)  आज हम जानने वाले हैं। 

साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? | science mein kaun kaun se subject Hote Hain | Science subject list in hindi
साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं | Science subject list in hindi | science mai kon kon subject Hote Hai

बहुत सारे छात्र साइंस की पढ़ाई करके अपना करियर बनाना चाहते हैं लेकिन अधिकतर छात्रों को यह पता नहीं होता है कि साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? (science mein kaun kaun se subject Hote Hain) (Science subject list in hindi)। 

तो चलिए आज अधिकतर  छात्रों के सवालों का जवाब हम जानेंगे तो आप इस लेख को पूरा अंदर तक पढ़े ताकि आपको सभी प्रकार की जानकारी अच्छे से समझ में आ जाए और आपको किसी भी प्रकार का दिक्कत ना हो। 

Table of Contents

साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? (Science subject list in hindi)

साइंस में मैथमेटिक्स, बायोलॉजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री, ईकनामिक्स, कंप्यूटर साइंस, हिंदी और अंग्रेजी जैसे सब्जेक्ट को पढ़ाए जाते हैं तथा इसके अलावा भी साइंस में कई सारे ऑप्शनल सब्जेक्ट को पढ़ाए जाते हैं। 

आपको बता दें कि साइंस में अलग-अलग क्लास में अलग-अलग सब्जेक्ट पढ़ाए जाते हैं लेकिन साइंस के मैन 4-5 सब्जेक्ट होते हैं जिसे हमें पढ़ना पड़ता है और इन्हीं सब्जेक्ट के विकृत रूप आगे हमको पढ़ना पड़ता है तो चलिए जानते हैं कि वह मैन सब्जेक्ट कौन-कौन से हैं जो कि निम्नलिखित है। 

  • मैथमेटिक्स (Mathematics)
  • बायोलॉजी (Biology)
  • फिजिक्स (Physics)
  • केमिस्ट्री (Chemistry)
  • ईकनामिक्स(Economics)
  • कंप्यूटर साइंस (Computer Science)
  • हिंदी (Hindi) 
  • अंग्रेजी (English)

ऊपर दिए गए सब्जेक्ट को हमें साइंस स्ट्रीम में पढ़ना पड़ता है और इसके अलावा भी कई सारे ऑप्शनल सब्जेक्ट होते हैं जिसे हमे साइंस स्ट्रीम  में पढ़ना पड़ता है चलिए अब हम जानते हैं कि वह सब ऑप्शनल सब्जेक्ट कौन-कौन से है। 

साइंस स्ट्रीम के ऑप्शनल सब्जेक्ट्स 

आपको बता दें कि साइंस स्ट्रीम में फिजिक्स, केमेस्ट्री, मैथमेटिक्स, बायोलॉजी, हिंदी और अंग्रेजी के अलावा भी कई सारे ऑप्शनल विषय होते हैं जिसे हमें पढ़ने पड़ते हैं। 

बहुत सारे स्कूल तथा कॉलेजों में वैकल्पिक विषय या ऑप्शनल सब्जेक्ट चुनने के लिए कई सारे ऑप्शन भी आपको देते हैं उसमें से किसी एक या दो ऑप्शनल सब्जेक्ट को आप को चुनना होता है जिसकी आप पढ़ाई करना चाहते हैं। 

 तो चलिए अब हम जानते हैं कि कौन-कौन से ऑप्शनल सब्जेक्ट होते हैं जिन्हें हमें साइंस स्ट्रीम में पढ़ना पड़ता है जो कि निम्न लिखित है। 

The field of computer science 

कंप्यूटर विज्ञान कंप्यूटर अनुप्रयोगों, प्रोग्रामिंग भाषाओं, कंप्यूटिंग तर्क और नेटवर्किंग प्रौद्योगिकियों का एक व्यापक अध्ययन है जो छात्रों के बीच बेहद लोकप्रिय हो गया है, यह साइंस स्ट्रीम का ऑप्शनल सब्जेक्ट होता है जिससे बहुत सारे कॉलेजों में पढ़ाया जाता है।

Practices in Informatics

सूचना विज्ञान अभ्यास, जबकि कंप्यूटर विज्ञान की तुलना में, सूचना प्रसंस्करण, कंप्यूटर सिस्टम, डिवाइस एप्लिकेशन, प्रोग्राम डेवलपमेंट और एकीकृत डिवाइस इलेक्ट्रॉनिक्स पर ध्यान केंद्रित करते हैं।

यह भी ऑप्शनल सब्जेक्ट है जिसे साइंस स्ट्रीम में पढ़ना पड़ता है आपको बता दें कि बहुत सारे कॉलेजों में यह सब्जेक्ट नहीं पड़ रहा होता है लेकिन  कुछ-कुछ कॉलेजों में इस सब्जेक्ट को पढ़ना पड़ता है। 

Economics

कॉमर्स स्ट्रीम के छात्रों का मुख्य विषय अर्थशास्त्र है, लेकिन यह विज्ञान और मानविकी स्ट्रीम के छात्रों के लिए भी एक लोकप्रिय विकल्प है। 

आपको बता दें कि कुछ जगह पर इकोनॉमिक्स मेन सब्जेक्ट माना जाता है लेकिन कहीं-कहीं ऑप्शनल सब्जेक्ट भी माना जाता है कुछ कुछ कॉलेजों में इकोनॉमिक्स को पढ़ना अनिवार्य माना जाता है तो कुछ कुछ कॉलेजों में ऑप्शनल के तौर पर आप ही को नमक सब्जेक्ट को पढ़ सकते हैं। 

अर्थशास्त्र सामाजिक विज्ञान में आता है जो जांच करता है कि अर्थव्यवस्थाएं कैसे काम करती हैं, उनके मूल घटक, साथ ही साथ बाजार राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कैसे बातचीत करते हैं।

Engineering Drawing

इंजीनियरिंग ड्राइंग, जिसे अक्सर इंजीनियरिंग ग्राफिक्स के रूप में जाना जाता है, एक विशेषज्ञ विषय है जो छात्रों को मशीनों, संरचनाओं और प्रणालियों को डिजाइन या विश्लेषण करने के लिए आवश्यक विचारों और सूचनाओं को ग्राफिक रूप से संवाद करना सिखाता है।

Psychology

मनोविज्ञान, जिसे मन के अध्ययन के रूप में परिभाषित किया गया है, हाल के वर्षों में लोकप्रियता में विस्फोट हुआ है। मनोविज्ञान लोगों की मानसिक प्रक्रियाओं, व्यवहारों और अनुभवों का अध्ययन है। 

आप कक्षा 11वीं और 12वीं में मौलिक अवधारणाओं और सिद्धांतों, जैसे भावनाओं, व्यक्तित्व, बुद्धि, आदि के बारे में जानेंगे। साइकोलॉजि को भी ऑप्शनल सब्जेक्ट के रूप में माना जाता है लेकिन किसी किसी कॉलेजों में अनिवार्य विषय के तौर पर इस सब्जेक्ट को पढ़ना पड़ता है। 

Physical Education

शारीरिक शिक्षा एक अन्य लोकप्रिय वैकल्पिक पाठ्यक्रम है जो स्कोरिंग और आपकी शारीरिक गतिविधि के लिए फायदेमंद दोनों है। शरीर क्रिया विज्ञान, शारीरिक फिटनेस, कई खेल और योग ये सभी विषय कक्षा 11वीं और 12वीं में शामिल हैं।

यहां सब्जेक्ट भी एक वैकल्पिक सब्जेक्ट होता है जिसे हम साइंस स्ट्रीम में ऑप्शनल सब्जेक्ट के तौर पर चुनाव कर सकते हैं और पढ़ाई कर सकते हैं। 

ऊपर दिए गए सभी सब्जेक्ट वैकल्पिक सब्जेक्ट थे जिसे हम साइंस स्ट्रीम में अनिवार्य विषय के साथ-साथ अन्य विषय को भी चुनाव करके हम पढ़ाई कर सकते हैं। 

जरुर पढ़ें :-साइंस में कौन-कौन सी जॉब होती है?

साइंस में कौन सी नौकरी मिलती है?

साइंस की पढ़ाई करने के बाद बहुत सारे नौकरी मिलता है जैसे इंजीनियर बन सकते हैं, डॉक्टर बन सकते हैं, साइंटिस्ट बन सकते हैं इत्यादि कई सारी  फील्ड में आप नौकरी कर सकते हैं। 

साइंस की पढ़ाई करके आप कई सारे फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं और नौकरी प्राप्त कर सकते हैं आपको बता दें कि साइंस की पढ़ाई करने के बाद आप लगभग सभी प्रकार की नौकरी को कर सकते हैं। 

सभी प्रकार की नौकरी को करने के लिए आपको उस नौकरी की योग्यता होना अनिवार्य होती है किसी भी नौकरी की मिनिमम योग्यता को यदि आप पूरा कर लिए हैं तो आप किसी भी नौकरी को साइंस की पढ़ाई करके आसानी से कर सकते हैं। 

चलिए अब हम जानते हैं कि साइंस की पढ़ाई करके हम कौन-कौन सी नौकरी कर सकते हैं और किस किस नौकरी में अपना करियर बना सकते हैं जो कि निम्नलिखित है। 

  • इंजीनियर
  • डॉक्टर 
  • साइंटिस्ट
  • आर्किटेक्ट्स
  • सरकारी कर्मचारी
  • टीचर
  • पायलट
  • डिजाइनर
  • फार्मासिस्ट
  • लॉयर
  • मैनेजर
  • कंप्यूटर विशेषज्ञ 

साइंस की पढ़ाई करके आप ऊपर दिए गए सभी जॉब को आसानी से कर सकते हैं और किसी भी फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं इसके अलावा भी कई सारे जॉब शेष रह जाते हैं जिसे आप साइंस की पढ़ाई करके आसानी से कर सकते हैं। 

आपको बता दें कि साइंस एक ऐसा स्ट्रीम होता है जिसकी पढ़ाई करने के बाद आप किसी भी स्ट्रीम की जॉब को आसानी से कर सकते हैं अर्थात यदि कोई जॉब आर्ट्स स्ट्रीम में है तो आप उस जॉब को भी कर सकते हैं। 

यह भी पढ़ें :-बीएससी के बाद गवर्नमेंट जॉब?

12वीं के बाद साइंस स्टूडेंट क्या करें?

12वीं के बाद साइंस स्टूडेंट बीएससी कोर्स को कर सकते हैं आपको बता दें कि बीएससी कोर्स बहुत ही पॉपुलर कोर्स माना जाता है जो अंडर ग्रैजुएट लेवल का एक कोर्स होता है जिसे करने में 3 वर्ष का समय लगता है। 

अधिकतर छात्र 12वीं के बाद बीएससी कोर्स को करते हैं क्योंकि बीएससी कोर्स करने के बाद वह किसी भी जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं क्योंकि अधिकतर जॉब में अर्थात सरकारी जॉब में बीएससी योग्यता मांगी जाती है। 

यदि आप सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो बीएससी करना आपके लिए अनिवार्य होता है क्योंकि बीएससी करने के बाद ही आप सरकारी नौकरी के लिए आवेदन दे सकते हैं और यदि बीएससी नौकरी आप नहीं किए हैं तो बहुत सारे सरकारी नौकरी करने से वंचित रह सकते हैं। 

12वीं के बाद बीएससी के अलावा भी कई सारे ऐसे कोर्स होते हैं जिसे साइंस के स्टूडेंट आसानी से कर सकते हैं जैसे कि 12वीं के बाद बीसीए, बी टेक या बीई  कोर्स को कर सकते हैं जो सबसे अच्छा कोर्स भी माना जाता है और जो सबसे ज्यादा पॉपुलर भी है। 

जो छात्र 12वीं की परीक्षा में पीसीबी लेकर पढ़ाई किए हैं वह एमबीबीएस या बीडीएस जैसे पॉपुलर कोर्स को कर सकते हैं और अपना कैरियर बना सकते हैं। 

बारहवीं कक्षा के बाद बहुत सारे ऐसे कोर्स होते हैं जिसे आप करके अपना करियर बना सकते हैं और यदि आप मेडिकल के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो बी फार्मा डी फार्मा जैसे कोर्स को आप करके आसानी से मेडिकल क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं। 

यह भी पढ़ें :- b.Ed कितने साल का होता है

साइंस लेने के लिए कितने परसेंटेज चाहिए?

साइंस लेने के लिए यदि परसेंटेज की बात की जाए तो आपको बता दें कि अलग-अलग कॉलेजों में अलग-अलग नियम होते हैं लेकिन अधिकतर कॉलेजों में 45% से ऊपर मार्क्स होने पर ही आपका एडमिशन लिया जाता है। 

सभी कॉलेजों का रूल अलग-अलग होते हैं यदि आपका मार्क 45% से ऊपर है तो आप अधिकतर कॉलेजों में एडमिशन ले सकते हैं लेकिन यदि आपका मार्क 45% से नीचे है तो कुछ ही कॉलेज में आपका एडमिशन हो सकता है अन्यथा आप साइंस में एडमिशन लेने से वंचित भी रह सकते हैं। 

अधिकतर सरकारी कॉलेज में मार्क्स के आधार पर एडमिशन लिया जाता है और आपको बता दें कि यदि आपका मार्क 45% से ऊपर है तो आपका एडमिशन आसानी से कॉलेजों में हो सकता है लेकिन यदि आपका मार्क्स 45% से नीचे है तो आपको इंतजार करना पड़ सकता है और अंतिम में सभी सीट फुल हो जाए तो  आपका एडमिशन नहीं होगा। 

बहुत सारे कॉलेजों में एंट्रेंस एग्जाम के द्वारा भी एडमिशन लिया जाता है तो उन कॉलेजों में मार्क्स को कम मान्यता दी जाती है इसलिए जिन कॉलेजों में एंट्रेंस एग्जाम लिया जाता है उसमें जब भी आप इंट्रेंस एग्जाम क्लियर कर लेते हैं तो आपका एडमिशन आसानी से हो जाता है। 

लेकिन आपको बता दें कि अधिकतर कॉलेजों में अंक के आधार पर ही एडमिशन होता है तो आप अच्छे से पढ़ाई करें और ज्यादा से ज्यादा अंक अर्जित करें ताकि आपको आगे एडमिशन लेने में दिक्कत ना हो। 

बहुत सारे छात्र साइंस में अपना करियर बनाना चाहते हैं और साइंस की पढ़ाई करना चाहते हैं लेकिन कई सारे छात्रों का यह सवाल है कि साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? (science mein kaun kaun se subject Hote Hain) (Science subject list in hindi) आप इस लेखक को पूरा अंदर तक पढ़ा है आपको जानकारी मिल जाएगी। 

यह भी पढ़ें :-12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें

साइंस लेने से क्या बन सकते हैं?

साइंस लेने से इंजीनियर, डॉक्टर, टीचर, प्रोफेसर, नर्स, साइंटिस्ट इत्यादि जैसे पद हासिल कर सकते हैं और नौकरी कर सकते हैं और इन सभी क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते हैं इसके अलावा भी कई सारे क्षेत्र में आप साइंस की पढ़ाई करने के बाद जा सकते हैं। 

यदि आप एक डॉक्टर बनना चाहते हैं तो साइंस की पढ़ाई करके आसानी से आप एक डॉक्टर बन सकता है इसके लिए आपको 12वीं कक्षा में बायोलॉजी रखकर पढ़ाई करना होता है और आगे चलकर बायोलॉजी सब्जेक्ट को ऑनर्स के रूप में पढ़ना पड़ता है। 

यदि आप इंजीनियर बनना चाहते हैं तो आप साइंस की पढ़ाई करके आसानी से इंजीनियर बन सकते हैं इसके लिए आपको फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथ सब्जेक्ट को लेकर पढ़ाई करनी होती है और आगे चलकर आप आसानी से एक इंजीनियर बन सकते हैं। 

आपको पता था कि साइंस की पढ़ाई करने के बाद आपको लगभग सभी तरह के पदों को हासिल कर सकते हैं और सभी तरह की नौकरी को आसानी से कर सकते हैं लेकिन सभी नौकरी के लिए जो भी योग्यता मांगी जाती है वह योग्यता आपको साइंस में हासिल करनी होती है। 

चलिए अब हम जानते हैं कि साइंस लेने के बाद हम क्या-क्या बन सकते हैं और किन-किन क्षेत्र में नौकरी करके अपना करियर बना सकते हैं जो कि निम्नलिखित है। 

  • इंजीनियर
  • डॉक्टर 
  • साइंटिस्ट
  • आर्किटेक्ट्स
  • सरकारी कर्मचारी
  • टीचर
  • पायलट
  • डिजाइनर
  • फार्मासिस्ट
  • लॉयर
  • मैनेजर
  • कंप्यूटर विशेषज्ञ 

ऊपर दिए गए सभी नौकरी को आप कर सकते हैं और सभी क्षेत्र में आसानी से अपना करियर बना सकते हैं और किसी भी पद को हासिल कर सकते हैं। 

आपको बता दें कि साइंस की पढ़ाई करके आप दूसरे स्ट्रीम के जॉब को भी कर सकते हैं जैसे कोई जॉब आर्ट्स स्ट्रीम में है तो आप साइंस स्ट्रीम की पढ़ाई करके उस स्ट्रीम का भी जॉब को कर सकते हैं लेकिन उसके लिए योग्यता होनी बहुत जरूरी है। 

यह भी पढ़ें :-टीचर बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए

वैज्ञानिक के लिए कौन सा विषय सबसे अच्छा है?

आपको बता दें कि वैज्ञानिक कई प्रकार के होते हैं और आप पर निर्भर करता है कि आप कौन से वैज्ञानिक बनना चाहते हैं यदि आप चिकित्सा वैज्ञानिक में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आपको जीव विज्ञान रसायन विज्ञान से संबंधित पढ़ाई करनी होती है। 

यदि आप भौगोलिक वैज्ञानिक बनना चाहते हैं तो आपको ज्योग्राफी सब्जेक्ट को लेकर पढ़ाई करनी होती है उसके बाद आप भौगोलिक के वैज्ञानिक बन सकते हैं और उसमें अपना करियर बना सकते हैं। 

आपको बता दें कि किसी भी प्रकार का वैज्ञानिक बनने के लिए  साइंस की पढ़ाई करनी होती है और साइंस की पढ़ाई करने के बाद जब आप ग्रेजुएशन लेवल का कोर्स करते हैं तो उस समय जिस फील्ड में जाना चाहे उसका सब्जेक्ट का चुनाव कर के जा सकते हैं और अपना करियर बना सकते हैं और साइंटिस्ट बन सकते हैं। 

यदि आप इसरो में वैज्ञानिक बनना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले साइंस की पढ़ाई करनी होती है उसके बाद जब आप अंडर ग्रेजुएशन कोर्स बीएससी करते हैं तब आपको ज्योग्राफी ऑनर्स रखकर पढ़ाई करनी होती है ज्योग्राफी ऑनर्स रखने के बाद आप आसानी से खगोल शास्त्री या भौगोलिक वैज्ञानिक बन सकते हैं।  

यदि आप अभी दसवीं  कक्षा में पढ़ाई कर रहे हैं या 12वीं कक्षा में पढ़ाई कर रहे हैं तो आपको बता दें कि आप साइंस स्ट्रीम को लेकर ही पढ़ाई करें क्योंकि साइंस स्ट्रीम को लेने के बाद ही आप एक वैज्ञानिक बन सकते हैं। 

साइंस स्ट्रीम से पढ़ाई करने के बाद अब आगे किसी भी ऑनर्स  का चुनाव करके वैज्ञानिक बन सकते हैं आप जिस फील्ड का वैज्ञानिक बनना चाहते हैं उस तरह के सब्जेक्ट को आप अपना ऑनर्स के रूप में पढ़ाई करके वैज्ञानिक बन सकते हैं। 

जरुर पढ़ें :-गणित में कौन कौन सी जॉब होती है?

विज्ञान का जनक कौन है?

विज्ञान का जनक के बारे में बात किया जाए तो गैलीलियो को आधुनिक विज्ञान का जनक माना जाता है। अन्य वैज्ञानिकों जैसे स्टीफन हॉकिंग जैसे वैज्ञानिक का मानना है कि इतिहास में अन्य वैज्ञानिकों की तुलना में गैलीलियो ने आधुनिक विज्ञान में सबसे ज्यादा योगदान दिया है। 

आपको बता दें कि गैलीलियो को आधुनिक भौतिकी खगोल विज्ञान और अवलोकन विज्ञान के पिता भी माना जाता है आधुनिक विज्ञान का जनक और पिता गैलीलियो को ही माना जाता है। 

विज्ञान के बारे में कई सारे थ्योरी आज भी मौजूद है लेकिन अधिकतर थ्योरी में स्पष्ट नहीं किया गया है कि आखिर विज्ञान किस लेवल तक कार्य को कर सकती है लेकिन आधुनिक विज्ञान के गैलीलियो के थ्योरी में स्पष्ट रूप से प्रदर्शित है इसलिए गलियों को आधुनिक विज्ञान का जनक माना जाता है। 

जरुर पढ़ें :-कॉमर्स में कौन-कौन सी जॉब होती है?

CONCLUSION :- science mein kaun kaun se subject Hote Hain

आपके इस लेख के माध्यम से हमने जाना कि साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? (science mein kaun kaun se subject Hote Hain) (Science subject list in hindi) और इसके साथ ही एलएलबी से संबंधित और भी कई सारे लोगों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब आज हमने जाना। 

आज का यह लेख “साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं? (science mein kaun kaun se subject Hote Hain) (Science subject list in hindi)”  आपको कैसा लगा आप अपना राय जरूर दें और यदि आपके मन में एलएलबी से संबंधित किसी भी प्रकार का सवाल है तो आप अपना सवाल पूछ सकते हैं, जल्द से जल्द आपके सवालों का जवाब देने का मैं कोशिश करूंगा। 

यह भी पढ़ें :-बीएससी के बाद गवर्नमेंट जॉब?
जरुर पढ़ें :-गणित में कौन कौन सी जॉब होती है?
जरुर पढ़ें :-साइंस में कौन-कौन सी जॉब होती है?
जरुर पढ़ें :-कॉमर्स में कौन-कौन सी जॉब होती है?
यह भी पढ़ें :-12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *